सालों की परंपरा टूटी, सबरीमाला मंदिर में किया दो महिलाओं ने प्रवेश, रोष स्वरूप मंदिर किया गया बंद, माहौल तनावपूर्ण

नई दिल्ली, (PNL) : सबरीमाला परिसर में दो महिलाओं ने गर्भगृह में जाने का दावा करते हुए एक वीडियो भी शेयर किया है। केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने भी सबरीमाला मंदिर में दो महिलाओं की एंट्री की पुष्टि की, जिसके बाद पुजारियों ने सबरीमाला मंदिर को बंद कर दिया है। पुजारियों के मुताबिक, शुद्धिकरण के बाद ही मंदिर को खोला जाएगा।
आपको बता दें कि आज सुबह 3.45 बजे मंदिर में दो महिलाओं ने एंट्री की। इसका वीडियो भी जारी किया गया। हालांकि मंदिर के मुख्य हिस्से तक पहुंचने से उन्हें रोक दिया गया। इन दोनों महिलाओं की उम्र 40 साल के करीब बताई जा रही है। इससे जुड़ा एक वीडियो भी सामने आया है, जिसमें बुर्का पहने दो महिला मंदिर में प्रवेश करती नजर आ रही है। बताया जा रहा है कि मंदिर के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है।
मंदिर में एंट्री करने वाली मल्लापुरम निवासी कनकदुर्गा (46) और कोझिकोड निवासी बिंदू ने बताया कि उन्होंने आधी रात में अयप्पा मंदिर की चढ़ाई शुरू की और सुबह 3.45 बजे मंदिर के दर्शन किए। दोनों ने इसका वीडियो जारी किया है। इस दौरान उनके साथ सादी वर्दी में कई पुलिसकर्मी थे। उन्होंने कहा, ‘हम रात 12 बजे बिना पुलिस सुरक्षा के साथ पहुंचे। इसके बाद हम सन्नीधनम पहुंचे और पवित्र सीढ़ियों की चढ़ाई शुरू की। हमें किसी तरह के विरोध का सामना नहीं करना पड़ा। श्रद्धालु वहां मौजूद थे, लेकिन किसी ने हमसे सवाल नहीं पूछा और न ही हमें रोकने की कोशिश की।’
इसलिए सबरीमाला मंदिर में है महिलाओं के प्रवेश पर बैन
पुरानी कथाओं के अनुसार, अयप्पा अविवाहित हैं और वे अपने भक्तों की प्रार्थनाओं पर पूरा ध्यान देना चाहते हैं। साथ ही उन्होंने तब तक अविवाहित रहने का फैसला किया है जब तक उनके पास कन्नी स्वामी (यानी वे भक्त जो पहली बार सबरीमाला आते हैं) आना बंद नहीं कर देते।
Please follow and like us: