कड़ाके की ठंड से देश के इस एरिया में ऐसा हाल हुआ कि बर्फ बन गए बहते हुए झरने, देखें तस्वीरें

चमोली, (PNL) : ठंड अब दिनों दिन बढ़ती ही जा रही है। ऐसे में उत्तराखंड के चमोली जिले में इन दिनों दोपहर बाद मौसम खराब होने से कड़ाके की ठंड पड़ रही जिससे चीन सीमा क्षेत्र नीती घाटी में गाड-गदेरे भी जम गए हैं।
कड़ाके की ठंड में भी चीन सीमा क्षेत्र लपथल, सुमना, मलारी और नीती में तैनात सेना और आईटीबीपी के जवान अपनी ड्यूटी निभा रहे हैं। जोशीमठ, घाट, पोखरी, गैरसैंण, थराली, देवाल और दशोली क्षेत्र के ऊंचाई वाले छात्रों में भी ठंड में इजाफा हो गया है।
चमोली जिले की नीती घाटी चीन सीमा से लगी हुई है। शीतकाल में घाटी में रहने वाले भोटिया जनजाति के ग्रामीण जिले के निचले क्षेत्रों में आ जाते हैं। इन दिनों घाटी के झरने और गदेरों की जलधारा बर्फ में तब्दील हो गई है, जिससे घाटी के तापमान में भारी गिरावट आ गई है।
मौसम विभाग की मानें तो चमोली में शुक्रवार को भी दोपहर बाद मौसम बदलने, ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बर्फबारी की संभावना है। जबकि निचले क्षेत्रों में छाए रहेंगे बादल। शाम और सुबह सर्द हवाएं चलेंगी। बर्फबारी की भी संभावना है।
ठंड से बचने के लिए दोपहर बाद लोग अपने घरों में ही दुबके रहे। नीती घाटी में नालों की जलधारा भी बर्फ में तब्दील हो गई है। घाटी में सेना और आईटीबीपी के जवानों को जबरदस्त ठंड का सामना करना पड़ रहा है।
Please follow and like us: