भारत में आंधी-तूफान का कहर, तीन राज्यों में 31 लोगों की मौत, मोदी ने जताया दुख

नई दिल्ली, (PNL) : आंधी तूफान ने भारत के कई राज्यों में कहर बरपाया है. देश के ज्यादातर शहरों में तेज आंधी और बारिश के साथ ओले गिरे हैं. राजस्थान में आंधी-तूफान की वजह से 9 लोगों की मौत हुई है, जबकि मध्य प्रदेश में 13 लोगों की जान गई है. पूरे देश में आंधी तूफान के चलते 28 लोगों की मौत हुई है. आज भी मौसम विभाग ने आंधी-तूफान का अलर्ट जारी किया है. पीएम नरेंद्र मोदी ने जानमाल के नुकसान पर गहरा दुख जताया है और गुजरात के लोगों के लिए मुआवजे की घोषणा की है.
इसी बात पर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने ऐतराज जताया है. कमलनाथ ने ट्वीट कर कहा कि आप देश के पीएम हैं न कि केवल गुजरात के. उन्होंने कहा, ”मोदी जी, आप देश के पीएम ना कि गुजरात के. एमपी में भी बेमौसम बारिश व तूफ़ान के कारण आकाशीय बिजली गिरने से 10 से अधिक लोगों की मौत हुई है.लेकिन आपकी संवेदनाएं सिर्फ़ गुजरात तक सीमित ? भले यहां आपकी पार्टी की सरकार नहीं है लेकिन लोग यहां भी बस्ते है.
गुजरात और मध्य प्रदेश के साथ राजस्थान के भी कई इलाकों में जानलेवा आंधी-तूफान ने दस्तक दी. राजस्थान के प्रतापगढ़ औऱ झालावाड़ में तेज आंधी और बारिश ने लोगों का जीना-मुहाल कर दिया. कई जगहों पर पेड़ उखड़ गए और बिजली के खंभे सड़क पर आ गिरे. राजस्थान में आंधी-तूफान की वजह से 9 लोगों की मौत हुई है, जबकि 20 लोग घायल हुए हैं, लेकिन आंधी-तूफान का खतरा टला नहीं है. मध्य प्रदेश, राजस्थान और हिमाचल प्रदेश में मौसम विभाग ने तूफान का अलर्ट जारी किया है. यहां एक बार फिर जानलेवा आंधी-तूफान दस्तक दे सकता है.
मोदी ने जताया दुख, मदद का ऐलान
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी ट्वीट कर इस प्राकृतिक कहर में मरने वाले और घायल होने वालों के लिए दुख जताया है. पीएम ने ट्वीट किया कि आंधी-तूफान की वजह से हुए नुकसान पर मैं आहत हूं और घायलों के जल्द ठीक होने की कामना करता हूं. इसके अलावा प्रधानमंत्री राहत कोष की ओर से मृतकों के परिवार और घायलों के लिए मदद का ऐलान किया गया है. मृतकों के परिवार के लिए 2 लाख रुपये, वहीं घायलों के लिए 50 हजार रुपये के मुआवजे का ऐलान किया गया है.
Please follow and like us: