एशियन गेम्स में गोल्ड मेडल जीतने वाले मोगा के तजिंदरपाल तूर को घर लौटने से पहले गहरा सदमा

नई दिल्ली, (PNL) : एशियन गेम्स में गोल्ड मेडल जीतने वाले तजिंदरपाल सिंह तूर के पिता करण सिंह का सोमवार को निधन हो गया। इस वजह से तजिंदर के पिता का बेटे का गोल्ड मेडल देखने का सपना अधूरा रह गया। तूर कैंसर से लड़ रहे अपने पिता को अपना गोल्ड मेडल देकर उन्हें खुशी देना चाहते थे। एशियन गेम्स के समापन के बाद तजिंदर दिल्ली पहुंचकर पंजाब के मोगा स्थित घर जाने वाले थे, तभी उन्हें अपने पिता के निधन की खबर मिली।
शॉटपुट के इस चैपिंयन खिलाड़ी को अपने पिता की बिगड़ती हालत के बारे में तो पहले से ही अंदाजा था, लेकिन उन्हें यह उम्मीद नहीं रही होगी कि उनके पिता से आखिरी वक्त में उनकी मुलाकात भी नहीं हो पाएगी। तजिंदर के पिता करण सिंह 2015 से कैंसर की जंग लड़ रहे थे।
तूर के पिता के निधन पर ऐथेलेटिक्स फेडरेशन ऑफ इंडिया (एएफआई) ने ट्वीट कर शोक जताया है। एएफआई ने अपने ट्वीट में कहा, हम गहरे सदमे में हैं। हमारे एशियन शॉटपुट चैंपियन गोल्ड मेडलिस्ट एयरपोर्ट से होटल जाने के रास्ते पर थे, तब ही हमारे पास उनके पिता के निधन की दुखद खबर पहुंची। उनकी आत्मा को शांति मिले। तजिंदर और उनके परिवार के साथ हमारी संवेदनाएं हैं।
गौरतलब है कि पंजाब के मोगा के एक गांव के निवासी तजिंदर किसानों के परिवार से आते हैं और तमाम परेशानियों के बावजूद उनके पिता ने यहां तक पहुंचने में उनकी काफी मदद की थी। बता दें कि 18वें एशियाई खेलों की शॉट पुट स्पर्धा का स्वर्ण पदक जीतने वाले तेजेंदरपाल भारतीय नौ सेना मे है और पंजाब के मोगा जिले के रहने वाले है। उन्होंने पिछले साल एशियाई चैम्पियनशिप में रजत पदक जीता था।
Please follow and like us: