बेअदबी मामले में पूर्व एसएसपी चरणजीत को पुलिस ने किया गिरफ्तार

होशियारपुर, (PNL) : इस समय की बड़ी खबर होशियारपुर से आ रही है। बेअदबी मामले में पुलिस ने मोगा के पूर्व एसएसपी चरणजीत शर्मा को गिरफ्तार कर लिया है। हालांकि एसआईटी ने चरणजीत को 29 जनवरो को तलब किया था, लेकिन उससे पहले ही आज चरणजीत को होशियारपुर से गिरफ्तार कर लिया। चरणजीत सिंह को पकड़ने के लिए टीम रविवार तड़के 4.30 बजे उनके घर पहुंची। चरणजीत ने छत के रास्ते भागने का प्रयास किया, मगर असफल रहे। फिलहाल अब उनसे अमृतसर में पूछताछ की जा रही है। चरणजीत पर बेअबदी मामलों के बाद बहबल कलां में गोली चलाने के निर्देश देने का आरोप है। चरणजीत की गिरफ्तारी की एसआईटी ने पुष्टि कर दी है। चरणजीत जालंधर में भी तैनात रह चुके हैं।
बता दें कि 12 अक्टूबर, 2015 को फरीदकोट जिले के बरगाड़ी गांव में श्री गुरुग्रंथ साहिब के अंग फाड़कर गलियों में फेंक दिए गए। इसके विरोध में सिखों ने प्रदर्शन किया। 14 अक्टूबर, 2015 को कोटकपूरा के बहिबलकलां में पुलिस ने प्रदर्शन कर रहे लोगों पर गोली चला दी, जिसमें दो युवकों की मौत हो गई।
हाई कोर्ट ने इस मामले में आरोपित पुलिस अफसरों और नेताओं के खिलाफ SIT जांच की मंजूरी दी थी। पंजाब विधानसभा ने इन मामलों की जांच सीबीआइ से वापस लेकर SIT को सौंपने का प्रस्ताव पारित किया था। इससे सहमति दिखाते हुए हाई कोर्ट ने जांच वापस लेने के खिलाफ दायर पुलिस अफसरों की याचिकाओं को खारिज कर दिया था।
इन मामलों की जांच के लिए कैप्टन सरकार ने 30 जून, 2018 को रिटायर्ड जस्टिस रंजीत सिंह के नेतृत्व में आयोग का गठन किया था। कोर्ट ने आयोग की रिपोर्ट को भी सही ठहराया है। इससे पहले 29 जून, 2016 को शिअद-भाजपा सरकार में गठित जस्टिस जोरा सिंह आयोग का भी गठन किया गया था।
Please follow and like us: