कांग्रेस के घोषणापत्र में बड़ा फैसला, सत्ता में आने पर नहीं लगने देंगे RSS की शाखाएं

नई दिल्ली, : मध्य प्रदेश में चुनावी माहौल गर्म है. राजनीतिक दल मतदाताओं को लुभाने के लिए जोर-शोर से प्रचार में जुटे हैं. तमाम लोक-लुभावन वादे किये जा रहे हैं. इस बीच कांग्रेस ने अपना घोषणापत्र जारी कर दिया है. खास बात यह है कि राज्य में सत्ता की कुर्सी तक पहुंचने के लिए जी-जान लगा रही कांग्रेस ने अपने घोषणापत्र में कहा है कि अगर वह सरकार बनाती है तो सरकारी कार्यालयों और परिसर में RSS की शाखा नहीं लगने दी जाएगी. साथ ही पार्टी अपने पिछले फैसले को भी वापस लेगी जिसमें सरकारी कर्मियों को आरएसएस की शाखा में जाने की इजाजत दी गई है.
आपको बता दें कि बीते दिनों राजस्थान कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष सचिन पायलट ने कहा था कि पांच राज्यों में हो रहे विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ही जीतेगी. सचिन पायलट ने कहा कि राजस्थान में कांग्रेस को भारी बहुमत मिलेगा. सचिन पायलट ने कहा कि बीजेपी अध्यक्ष जयपुर आए थे जहां उन्होंने कहा था कि बीजेपी अंगद का पैर है, लेकिन मैं उन्हें बताना चाहता हूं कि राजस्थान कोई ‘पाप की लंका नहीं’ है. साथ ही उन्होंने कहा कि राजस्थान या अन्य राज्यों में जनता प्रधानमंत्री के भाषण पर नहीं सरकार के काम पर वोट देगी. इसके अलावा उन्होंने कहा कि बीजेपी को राष्ट्रीय स्तर पर अगर कोई पार्टी टक्कर देने का दम रखती है तो वह सिर्फ कांग्रेस है, लेकिन जिस राज्य में जो पार्टी भाजपा को हरा सकती है उनके साथ मिलकर हम काम करेंगे.
Please follow and like us: