जालंधर : केएमवी की प्रिंसिपल रीटा बावा हत्याकांड में 11 साल बाद पकड़ा गया एक और आरोपी, पढ़ें

प्रदीप शर्मा ‘नोनू’
जालंधर, (PNL) : 2008 में हुए केएमवी कॉलेज की प्रिंसिपल रीटा बावा समेत चार लोगों की हत्या के केस में पुलिस ने 11 साल बाद एक भगोड़े को गिरफ्तार किया है। आरोपी की पहचान बिहार के पूर्णिया के मनोज यादव के रूप में हुई है। केस में अब तक चार लोग गिरफ्तार हो चुके थे, जिन्हें चौहरी उम्रकैद की सजा सुनाई गई थी। इसके अलावा चार आरोपी भगोड़े थे, जिनमें आज मनोज को पकड़ लिया गया।
बता दें कि छह जनवरी, 2008 को कॉलेज की प्रिंसिपल, उनके दो सिक्युरिटी गार्ड और एक नौकर की कॉलेज कैंपस में ही हत्या कर दी गई थे। प्रिंसिपल समेत मारे गए चारों लोगों के शवों को सबसे पहले एक नौकरानी ने देखा और पुलिस को इसकी सूचना दी। हत्या की शिकार हुईं कन्या महाविद्यालय (केएमवी) की प्रिंसिपल रीता बावा तलाकशुदा थीं और अपने आवास में अकेली रहा करती थीं।
Please follow and like us: