दिवाली पर पंजाब में बड़े आतंकी हमले का खतरा, राज्य में सुरक्षा कड़ी, चप्पे-चप्पे पर पुलिस तैनात, पढ़ें

नई दिल्ली, (PNL) : दिवाली पर पंजाब पर बड़ा आतंकी खतरा मंडरा रहा है। आतंकी संगठन पंजाब को दहलाने की साजिश रच रहे हैं। लश्कर, खालीस्तानी आतंकी और जम्मू कश्मीर में सक्रिय आतंकी संगठनों ने दिवाली के दौरान पंजाब में बड़े आतंकी हमले की साजिश रची है। खुफिया एजेंसियों ने खतरे को देखते हुए अलर्ट जारी किया है। पंजाब में चप्पे-चप्पे पर सुरक्षा कड़ी कर दी गई है । तीन दिन पहले पटियाला पुलिस ने खालिस्तान समर्थक आतंकी को गिरफ्तार किया था जिसने पूछताछ में ये खुलासा किया था कि विदेशों में बैठे उसके आका पंजाब में बड़ी आतंकी वारदात को अंजाम देने के लिए दबाव बना रहे थे।
इसी के तहत उसने पटियाला के बस स्टैंड के नजदीक दिवाली पर ग्रेनेड हमले की साजिश रची थी लेकिन उससे पहले ही वो पुलिस के हत्थे चढ़ गया। पंजाब पुलिस के लिए फेस्टिवल सीजन बड़ी चुनौती बन गया है। इसे लेकर पंजाब के डीजीपी ने सभी रेंज के आईजी, डीआईजी, तमाम जिलों के एसएसपी और अन्य पुलिस अफसरों को अलर्ट जारी कर दिया है। इंटेलिजेंस ने राज्य में बड़ी आतंकी वारदातें होने की आशंका जताते हुए पंजाब पुलिस को अलर्ट किया है। इन वारदातों की साजिश के पीछे पाकिस्तान की ISI ओर लश्कर-ए-तैयबा का हाथ होने की आशंका जताई जा रही है। इसे लेकर पंजाब डीजीपी ने हाई अलर्ट जारी कर दिया है।
खुफिया जानकारी के मुताबिक विदेशों के बैठे आतंकी संगठनों से मिलकर ISI लश्कर-ए-तैयबा और खालिस्तानी समर्थक संगठन इस फेस्टिवल सीजन के दौरान पंजाब में बड़ी आतंकी वारदातें करने की फिराक में है। इंटेलिजेंस की मानें तो ISI ने अपने स्लीपर सेल पंजाब के विभिन्न शहरों और कस्बों में रेकी करने के लिए छोड़ रखे हैं। ISI के ये सेल विभिन्न शहरों और गांवों में कश्मीरी शॉल और गर्म कपड़े बेचने वालों की आड़ में घूमते हुए जगह-जगह रेकी कर रहे हैं। जारी अलर्ट में कहा गया है कि एक तरफ जहां खालिस्तान गदर फोर्स के आतंकी पंजाब में दिवाली से पहले बड़ी वारदात करने की फिराक में हैं तो वहीं दूसरी ओर ISI के आतंकवादी भी दीवाली के दौरान पंजाब में बड़ी वारदात करने के लिए मौके की तलाश में हैं।
इसके लिए सभी शहरों और कस्बों में भीड़भाड़ वाले इलाकों पर कड़ी नजर रखने को कहा गया है। जबकि तीन दिन पहले पटियाला पुलिस की और से पकड़े गए खालिस्तान समर्थक आतंकी से पूछताछ के दौरान भी इस बात का खुलासा हुआ था। उसने पुलिस को बताया था कि विदेशों में बैठे उसके आका पंजाब में बड़ी घटना को अंजाम देने के लिए दबाव बना रहे थे। इसी के चलते उसने पटियाला के बस स्टैंड के नजदीक दिवाली के आसपास ग्रेनेड हमला करना था। इसकी तैयारी भी वो कर चुका था लेकिन इससे पहले ही वो पुलिस के हत्थे चढ़ गया।
Please follow and like us:
error: Content is protected !!