पुलवामा अटैक के बाद भारत ने पाकिस्तान पर इन आठ चीजों से किया प्रहार, पढ़ें

पुलवामा, (PNL) : जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद से ही भारत ने पाकिस्तान को घेरना शुरू कर दिया है. केंद्र की मोदी सरकार ने पाकिस्तान को सबक सिखाने के लिए सेना को खुली छूट दी है, तो वहीं कूटनीतिक तौर पर भी PAK को सबक सिखाने की तैयारी चल रही है. पुलवामा हमले में 40 जवानों की शहादत के बाद से ही देश की जनता गुस्से में है और सड़कों पर उतर कर मांग कर रही है कि पाकिस्तान पर कड़ा प्रहार किया जाए. आतंकी हमले को 8 दिन हो चुके हैं और भारत की ओर से इस दौरान 8 ऐसे प्रहार किए गए हैं जिन्हें पाकिस्तान कभी भूलेगा नहीं.
1. अब पाकिस्तान में नहीं जाएगा हमारा पानी
पाकिस्तान को सबक सिखाने के लिए भारत सरकार ने बड़ा फैसला किया है. दरअसल, सिंधु जल समझौते के मुताबिक पश्चिमी रेंज की तीन नदियों- झेलम, चेनाब और सिंधु के पानी का 80 फीसदी इस्तेमाल पाकिस्तान और 20 फीसदी का इस्तेमाल भारत कर सकता है. इनमें से सिर्फ चार फीसदी पानी का इस्तेमाल भारत करता था, बाकी 16 फीसदी पाकिस्तान में चला जाता था.
लेकिन अब सरकार ने फैसला किया है कि वह इस पानी को पाकिस्तान में नहीं जाने देगी. इसके लिए बांध बनाया जाएगा और इस पानी का इस्तेमाल भारत में ही किया जाएगा. पाकिस्तान का पूरा पंजाब प्रांत सिंधु नदी के पानी पर ही निर्भर है. इस फैसले से पाकिस्तान में चल रहे बड़े बिजली के प्रोजेक्ट्स को झटका लग सकता है, इसके अलावा अगर भविष्य में भारत पानी छोड़ता है तो पाकिस्तान में बाढ़ के हालात हो सकते हैं.
2. दुनिया में अलग-थलग पड़ा पाकिस्तान
पाकिस्तान की कूटनीतिक घेराबंदी करने की भी मोदी सरकार की पूरी तैयारी की है. संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (UNSC) ने पुलवामा आतंकी हमले को जघन्य और कायराना करार दिया है. इस बार चीन ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में भारत का साथ दिया है. दुनिया के 15 शक्तिशाली देशों के इस मंच ने कहा कि इस हमले के गुनाहगारों को सजा जरूर मिलनी चाहिए.
अमेरिका, ब्रिटेन और फ्रांस के साथ चीन ने भी इस प्रस्ताव का समर्थन किया है. मतलब, जैश-ए-मोहम्मद पर चीन के रुख में बड़ा बदलाव पाकिस्तान के लिए झटका और भारत के लिए बड़ी राहत है. हालांकि, इसमें मसूद अजहर का जिक्र नहीं है, UNSC ने आतंकवाद को अंतरराष्ट्रीय शांति और सुरक्षा के लिए गंभीर खतरों में से एक बताया गया है.
3. अलगाववादियों से सुरक्षा वापस
जम्मू-कश्मीर में बैठे पाकिस्तानी समर्थकों को बड़ा झटका देते हुए मोदी सरकार ने उनकी सुरक्षा ही वापस ले ली. सरकार ने हुर्रियत के 18 नेताओं की सुरक्षा वापस ले ली, इससे पहले चार नेताओं की सुरक्षा छिनी गई थी. यानी अब तक हुर्रियत के 22 नेताओं सरकारी सुरक्षा हटाई जा चुकी है. जिन बड़े हुर्रियत नेताओं की सुरक्षा हटाई गई है उनमें एसएएस गिलानी, यासीन मलिक, आगा सईद मोसवी, मौलवी अब्बास अंसारी समेत अन्य नेता शामिल हैं.
4. हाफिज सईद पर भी पाबंदी
भारत की ठोस कूटनीति और कड़े रुख से पाकिस्तानी हुक्मरानों की बेचैनी बढ़ गई है. आनन-फानन में गुरुवार को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने राष्ट्रीय सुरक्षा समिति की बैठक की. इसमें जमात-उद-दावा और फलाह-ए-इंसानियत पर पूर्ण प्रतिबंध लगाने का आदेश दिया. ये दोनों ही संगठन मुंबई हमले के मास्टर माइंड हाफिज सईद द्वारा चलाए जाते हैं, हाफिज दोनों संगठनों के जरिए करीब 300 धार्मिक शिक्षण संस्थान चलाता है.
5.
क्रिकेट में भी बोल्ड हुआ पाकिस्तान
भारत-पाकिस्तान के बीच मैच का इंतजार पूरी दुनिया के क्रिकेट दीवानों को रहता है. हर बॉल पर दर्शकों की सांसें ऊपर-नीचे होती हैं. लेकिन जब जवानों की शहादत और पाकिस्तान के धोखे की बात आई तो हमारे क्रिकेटर भी बोलने लगे कि ऐसे कैसे खेल लेंगे पाकिस्तान से, कई खिलाड़ियों ने इसका विरोध किया है. बीसीसीआई भी आईसीसी को चिट्ठी लिख पाकिस्तान को वर्ल्ड कप से बाहर करने की कोशिश की जा रही है.
6. पाकिस्तान के कारोबार पर चोट
पाकिस्तान को जोर का झटका देने के लिए भारत ने तरजीही देश यानी मोस्ट फेवर्ड नेशन का दर्जा छीन लिया. इतना ही नहीं भारतीय किसानों ने अपना टमाटर भी पाकिस्तान को बेचने से इनकार कर दिया है.
हिंदुस्तान के कारोबारियों ने साफ-साफ कह दिया है कि अब आतंकिस्तान का कोई माल नहीं खरीदेंगे, इससे पाकिस्तान को सालाना 60 करोड़ रुपये मिल जाते थे. 2017-18 में भारत से पाकिस्तान को करीब 3500 करोड़ रुपये का कारोबार हुआ था.
7. बॉलीवुड में पाकिस्तानी कलाकारों की ‘नो एंट्री’!
आतंक समर्थित देश पाकिस्तान को सबक सिखाने के लिए बॉलीवुड ने भी कड़े कदम उठाए हैं. एक ओर बॉलीवुड में पाकिस्तानी कलाकारों को काम नहीं देने को लेकर बहस तेज हो गई है तो दूसरी ओर बॉलीवुड में पाकिस्तान में फिल्में रिलीज नहीं करने का फैसला किया है. कुछ फिल्म मेकर्स ने अपनी फिल्मों से पाकिस्तानी गायकों को हटा दिया है.
8. पाकिस्तान में नहीं रिलीज होंगी बॉलीवुड फिल्में
हाल फिलहाल में छह फिल्में रिलीज हो रही हैं, टोटल धमाल, मिलन टॉकीज, भारत, केसरी, मेंटल है क्या और बदला. बॉलीवुड ने फैसला लिया है कि इन सभी फिल्मों को पाकिस्तान को भी रिलीज किया जाना था, लेकिन पुलवामा हमले के बाद इस पर बैन लगा दिया है. पाकिस्तान में बॉलीवुड की फिल्मों की अच्छी खासी कमाई होती है. लेकिन अब पाकिस्तान को इस क्षेत्र में भी झटका दिया जा रहा है.
Please follow and like us: