पांड्या भाइयों के बाद अब पंजाब के ये दो बर्दर्स मचाएंगे धूम, IPL 2019 की नीलामी में चुने गए

पटियाला, (PNL) : अब तक आईपीएल में मुंबई के पांड्या ब्रदर्स का ही सिक्का चलता था। मुंबई इंडियंस के लिए खेलने वाले हार्दिक पांड्या और क्रुणाल पांड्या ने कई मौकों पर अपनी टीम को जीत दिलाई। अब भाइयों की एक और जोड़ी दुनिया के इस सबसे बड़े टी-20 टूर्नामेंट में छा जाने को तैयार है। नाम है पंजाब के सिंह ब्रदर्स…
बीते मंगलवार को खत्म हुई आईपीएल नीलामी में प्रभसिमरन और अनमोलप्रीत सिंह का जलवा देखने को मिला। यानी कि अब ये दोनों भाई अगले साल आईपीएल में दुनिया के स्टार क्रिकेटर्स के साथ खेलते नजर आएंगे। यह भाइयों की एकमात्र ऐसी जोड़ी रही जिसे इस नीलामी में खरीदा गया।
पटियाला से आने वाले चचेरे भाइयों की इस जोड़ी को दो अलग-अलग फ्रैंचाइजियों ने खरीदा। प्रभसिमरन सिंह जहां किंग्स इलेवन पंजाब से खेलेंगे तो उनके भाई अनमोलप्रीत सिंह मुंबई इंडियंस के लिए जी-जान लगाते नजर आएंगे।
लेकिन विकेटकीपर बल्लेबाज प्रभसिमरन सिंह पर जब फ्रैंचाइजियों ने खुलकर बोली लगाई, तो परिवार की खुशी का ठिकाना नहीं रहा। आखिरकार 4.8 करोड़ रुपये की बोली लगाकर किंग्स XI पंजाब (KXIP) प्रभसिमरन को अपने पाले में करने में कामयाब रही। वहीं उनके भाई अनमोलप्रीत सिंह को भी मुंबई इंडियंस ने 80 लाख रुपये में अपनी टीम के लिए चुना। अनमोल बैट्समैन हैं।
एक संयुक्त परिवार में साथ-साथ रहने वाले अनमोल और प्रभसिमरन के घर में खुशी का माहौल है। महज 18 वर्षीय युवा विकेटकीपर और आक्रामक बल्लेबाज प्रभसिमरन का बेस प्राइस 20 लाख रुपए था और उन्हें आश्चर्यजनक ढंग से 24 गुना कीमत पर 4.80 करोड़ में किंग्स इलेवन पंजाब ने खरीदा।
कौन हैं प्रभसिमरन सिंह
अंडर-19 एशिया कप में प्रभसिमरन बीच टूर्नामेंट में टीम की कमान भी संभाल चुके हैं। भारत इस टूर्नामेंट में उपविजेता बना था। उन्होंने एनसीए में किरण मोरे से विकेटकीपिंग की ट्रेनिंग ली। पिछले वर्ष कूच-बिहार ट्रॉफी में पंजाब की तरफ से खेलते हुए 549 रन बनाए, जिसमें 3 शतक शामिल थे। वे पंजाब के अंडर-23 टूर्नामेंट में 302 गेंदों में 298 रन बना चुके हैं। एडम गिलक्रिस्ट और वीरेंद्र सहवाग को आदर्श मानते हैं।
कौन हैं अनमोलप्रीत सिंह
अनमोलप्रीत आईपीएल की नीलामी में 80 लाख की कीमत पर मुंबई इंडियंस के साथ जुड़े। पिछले अंडर-19 विश्व कप में खेल चुके इस खिलाड़ी ने पिछले रणजी सत्र में अपनी बल्लेबाजी से सभी को प्रभावित किया था। 5 मैचों की 7 पारियों में 753 रन बनाए थे, जिसमें 3 दोहरे शतक शामिल थे। सचिन तेंडुलकर और विराट कोहली को आदर्श मानने वाले इस खिलाड़ी ने राहुल द्रविड़ से सीखा कि बल्लेबाजी के दौरान संयम कैसे बरता जाता है।
परिवार में इंटरनेशनल खिलाड़ी भी मौजूद
अनमोल और प्रभसिमरन चचेरे भाई हैं और ये जॉइंट फैमिली में एकसाथ रहते हैं। अनमोल के पिता सतविंदर सिंह हैंडबॉल के खिलाड़ी रहे हैं और वह भारत के लिए भी खेले हैं। दिलचस्प है कि सतविंदर सिंह को क्रिकेट का खेल बिल्कुल पसंद नहीं था और वह कभी नहीं चाहते थे कि उनका बेटा और भतीजा क्रिकेटर बनें। लेकिन दोनों लड़कों वही चुना जो उन्हें सबसे ज्यादा पसंद आया।
Please follow and like us: