मुक्तसर का ब्लाइंड मर्डर केस ट्रेस, गैंगस्टर दविंदर बंबीहा गैंग के चार सदस्य गिरफ्तार

चंडीगढ़, (PNL) : पंजाब पुलिस की ऑर्गनाईजड क्राइम कंट्रोल यूनिट (ओ.सी.सी.यू) द्वारा 11 मार्च, 2018 को मुक्तसर साहिब में दिन दिहाड़े हुए अंधे कत्ल की उलझी गुत्थी सुलझा ली गई है। गौरतलब है कि 52 वर्षीय गुरदेव सिंह का कुछ अज्ञात व्यक्तियों द्वारा कत्ल कर दिया गया था और इस सम्बन्धी सीटी थाना, श्री मुक्तसर साहिब में मुकद्मा दर्ज किया गया था।
कुंवर विजय प्रताप सिंह आईजीपी इंटेलिजेंस (ओ.सी.सी.यू) ने बताया कि गुरदेव सिंह बाज़ार में कोयले का व्यापारी था और लकड़ी का कारोबार भी करता था और कत्ल वाले दिन से ही ए.आई.जी. संदीप गोयल के नेतृत्व में ओ.सी.सी.यू की टीम की तरफ से इस मामले की जांच की जा रही थी।
उन्होंने बताया कि जांच के दौरान यह तथ्य सामने आया है कि उक्त कत्ल कांड का कारण जबरन कार छीनना था क्योंकि दोषी, जिसका कत्ल हुआ है की स्विफ्ट डिज़ायर कार हथियाना चाहते थे। इस कत्ल के पीछे दविन्दर बंबीहा गैंग का हाथ बताया जाता है। उन्होंने बताया कि इसी गैंग का एक मैंबर अजय फऱीदकोटिया ने लम्बी पूछताछ के दौरान अपना जुर्म कबूला और कत्ल में शामिल अन्य दोषी अमना जैतो, अमृतपाल बाबा, राकेश काकु और कोमलजीत सिंह उर्फ कोमल के नाम भी बताए।
आईजी., ओ.सी.सी.यू ने यह भी बताया कि करीब दो दर्जन संवेदनशील मामलों में ज़रुरी अजय फऱीदकोटिया को कुछ समय पहले मोगा से गिरफ़्तार किया गया था जबकि ओ.सी.सी.यू टीम की तरफ से पहले ही गिरफ्तार किया अमन जैतो प्रोडक्शन वारंट पर पेश किया गया था। केस हल होने के बाद और जांच टीम द्वारा सभी उलझे तार सुलझा लेने के बाद अमृतपाल बाबा (मुक्तसर) और राकेश काकू (बठिंडा) को भी गिरफ़्तार कर लिया गया। उन्होंने बताया कि उक्त कत्ल में इस्तेमाल किया गया 0.32 बोर का पिस्तौल दोषी से बरामद किया गया।
उन्होंने आगे बताया कि इस कत्ल केस की जांच डीएसपी विभोर कुमार के नेतृत्व वाली टीम जिसमें इंस्पेक्टर बिक्रमजीत सिंह और इंस्पेक्टर संजीव कुमार शामिल थे, के द्वारा की गई। जांच के दौरान कत्ल में दोषियों के लिए कार का प्रबंध करने वाले लखविन्दर सिंह लक्खा (मुक्तसर) का नाम भी सामने आया है। कत्ल के दौरान इस्तेमाल की गई कार भी टीम द्वारा बरामद की जा चुकी है।
उन्होंने बताया कि गिरफ़्तार किये सभी दोषियों को मुक्तसर अदालत में पेश किया गया और पुलिस की तरफ से दोषियों का रिमांड भी ले लिया गया है। इस सम्बन्धी आगे की जाँच जारी है और केस से सम्बन्धित कई अन्य गिरफ़्तारियाँ होने की आशा है।
Please follow and like us:
error: Content is protected !!