कारोबारियों का आज भारत बंद, नहीं खुलेंगी दवा दुकानें, पंजाब में भी पूरा असर

नई दिल्ली, (PNL) : वॉलमार्ट-फ्लिपकार्ट डील और विदेशी निवेश के खिलाफ देश भर के कारोबारियों ने आज भारत बंद का एलान किया है. आपके लिए सबसे बड़ी चिंता की बात ये है कि आज दवा की दुकानें भी बंद रहेंगी. ऑल इंडिया ऑर्गनाइजेशन ऑफ केमिस्ट एंड ड्रगिस्ट ने रात 12 बजे से 24 घंटे की हड़ताल का एलान किया है. एक तरफ व्यापारियों के बड़े संगठन कॉन्फेडरेशन ऑफ आल इंडिया ट्रेडर्स ने सभी छोटे बड़े बाजार को बंद रखने का एलान किया है तो दूसरी ओर दवा दुकानें बंद रहेंगी.
कारोबारियों का क्या कहना है?
कंफेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) ने एक बयान में कहा है, “देश के सभी व्यावसायिक बाजार बंद रहेंगे और कोई व्यावसायिक गतिविधि नहीं होगी. इस बंद में देश भर के सात करोड़ से अधिक छोटे कारोबारियों के हिस्सा लेने की संभावना है.”
व्यापारियों के संगठन ने दावा किया कि दिल्ली के कारोबारियों द्वारा ‘व्यापार बंद’ का आयोजन किया जाएगा. इसके तहत सभी थोक और खुदरा बाजार बंद रहेंगे. कैट के महासचिव प्रवीण खंडेलवाल ने कहा कि वालमार्ट-फ्लिपकार्ट सौदे और खुदरा क्षेत्र में एफडीआई के खिलाफ जंतर-मंतर पर कल धरना दिया जाएगा.
दवा व्यापारियों ने क्या कहा?
ऑल इंडिया ऑर्गनाइजेशन ऑफ केमिस्ट एंड ड्रगिस्ट एसोसिएशन के अध्यक्ष जेएस शिंदे ने कहा, ”ऑनलाइन दवाओं की बिक्री पर रोक लगनी चाहिए. e फार्मेसी सरकार द्वारा बैन की हुई दवाई भी बेच रही है. हाल ही में सरकार ने 328 तरह की दवाइयों को प्रतिबंधित किया लेकिन ऐसी दवाएं ऑनलाइन आपको मिल जाएंगी.”
एसोसिएशन के जनरल सेक्रेटरी राजीव सिंघल ने बताया हड़ताल 24 घण्टे की है. देश भर में हमारी एसोसिएशन से करीब साढ़े आठ लाख दुकानें हैं. सभी दुकानें इसमें हिस्सा लेंगी. सिंघल ने बताया कि मरीज़ों को परेशानी ना हो इसके लिए आपात स्थिति में हॉस्पिटल के अंदर दवाई की दुकानें खुली रहेंगी. इसके अलावा हर तहसील और जिला स्तर पर हमारे प्रतिनिधियों ने इमरजेंसी काउंटर की लिस्ट प्रशासन को सौंपी हुई है जिससे मरीज़ों को दिक़्क़त ना हो.
Please follow and like us:
error: Content is protected !!