कोटकपुरा गोलीकांड में घिरे पूर्व अकाली विधायक मनतार बराड़ पर लटकी गिरफ्तारी की तलवार, पढ़ें

फरीदकोट, (PNL) : श्री गुरु ग्रंथ साहिब जी की बेअदबी के बाद बहबल कलां एवं कोटकपूरा गोलीकांड के मामले में पूर्व अकाली विधायक मनतार सिंह बराड़ को बड़ा झटका लगा है। अदालत ने बराड़ की जमानत याचिका खारिज कर दी है, जिसके बाद अब उन पर गिरफ्तारी की तलवार लटक गई है। बुधवार को जिला सेशन जज हरपाल सिंह की अदालत में बराड़ की जमानत याचिका पर सुनवाई हुई, जिसे अदालत ने खारिज कर दिया।
बता दें कि एसआईटी के मुताबिक घटना वाले दिन 14 अक्टूबर 2015 को कोटकपूरा में धरनाकारियों पर पुलिस का बल उपयोग करने से पहले मनतार सिंह बराड़ अपने फोन के माध्यम से डीजीपी पंजाब व मुख्यमंत्री के विशेष प्रमुख सचिव गगनदीप सिंह बराड़ के साथ संपर्क में थे। उस दिन सुबह के समय मनतार सिंह बराड़ व गगनदीप सिंह बराड़ के बीच चार बार फोन पर बात हुई थी।
हालांकि मनतार सिंह बराड़ ने आयोग के पास कहा था कि उस दिन जिले के पुलिस प्रशासनिक अधिकारियों के कहने पर उन्होंने मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल से संपर्क करना चाहा था, लेकिन उनकी बात नहीं हो पाई लेकिन आयोग के पास तत्कालीन एसडीएम फरीदकोट वीके सियाल ने दावा किया था कि घटना वाले दिन मनतार सिंह बराड़ ने गगनदीप सिंह से बात के बाद अधिकारियों को बताया था कि मुख्यमंत्री की तरफ से जल्द ही डीजीपी को हिदायतें दी जाएगी।
Please follow and like us: