ममता की महारैली पर विपक्ष एकजुट, अखिलेश, केजरीवाल, देवगौड़ा, शत्रुघ्न सिन्हा, शरद यादव समेत ये नेता पहुंचे, पढ़ें

कोलकाता, (PNL) : ममता बनर्जी के नेतृत्व में कोलकाता में 22 विपक्षी दलों की महारैली समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव, कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे, आम आदमी पार्टी के अरविंद केजरीवाल, शरद यादव, एचडी देवगौड़ा आदि विपक्षी नेताओं के साथ ही पूर्व बीजेपी नेता अरुण शौरी और यशवंत सिन्हा ने भी मोदी सरकार को घेरा। इस रैली पर बीजेपी ने पलटवार किया है। बीजेपी ने विपक्ष की इस एकजुटता को सिद्धांतविहीन लोगों का जमघट करार दिया। इसके साथ ही महारैली में शिरकत करने को लेकर पार्टी सांसद शत्रुघ्न सिन्हा पर कार्रवाई के संकेत भी दिए।
देखिए रैली में किसने क्या कहा-
-नैशनल कॉन्फ्रेंस नेता फारूक अब्दुल्ला ने कहा, ‘यह किसी को हटाने नहीं बल्कि देश को बचाने की बात है।’ उन्होंने EVM पर निशाना साधा और कहा, ‘हम सबको मिलकर चुनाव आयोग जाना चाहिए, राष्ट्रपति से मिलना चाहिए और इस वोटिंग मशीन को खत्म करना चाहिए।
-कभी धुर विरोधी रही बीएसपी के साथ गठबंधन करने वाले समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव ने रैली में भरोसा जताया कि जो बात बंगाल से चलेगी वह पूरे देश में दिखाई देगी। उन्होंने दावा किया कि बीएसपी के साथ गठबंधन से देश में खुशी की लहर आ गई है। उन्होंने कहा कि इस रैली से देश की जनता में एक भरोसा पैदा होगा।
-बीजेपी से नाराज वरिष्ठ नेता यशवंत सिन्हा, शत्रुघ्न सिन्हा और अरुण शौरी भी ममता के मंच से बरसे। यशवंत सिन्हा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जगह भारतीय जनता पार्टी को निशाना बनाते हुए कहा, ‘पिछले 56 महीनों में देश का लोकतंत्र खतरे में आया है। हमारे सामने मोदी मुद्दा नहीं हैं, हमारे सामने मुद्दे मुद्दा हैं। उन्होंने पहले नारा दिया कि ‘सबका साथ सबका विकास।’ उन्होंने सबका साथ लिया लेकिन सबका विनाश भी कर दिया।’
-रैली को संबोधित करते हुए गुजरात में पाटीदार आंदोलन से उभरे नेता हार्दिक पटेल ने देश को बचाने के लिए विपक्ष के एकजुट होने की बात कही। उन्होंने कहा, ‘जैसे सुभाष बाबू देश के लिए गोरों से लड़े थे वैसे ही हमें इन चोरों से मिलकर लड़ना होगा। मैं दावे के साथ कह सकता हूं कि यह जनसैलाब एक ऐसी क्रांति लेकर आएगा जिसकी कल्पना नहीं की गई होगी।’
-ममता बनर्जी के मेगा रैली में शत्रुघ्न सिन्हा शामिल हुए और पुराने बागी तेवरों के साथ बीजेपी पर जमकर तंज चलाए। सिन्हा ने पार्टी में होने की बात करते हुए कहा कि वह भारत की जनता के हैं फिर भारतीय जनता पार्टी के। उन्होंने एक बार फिर फिल्मी अंदाज में कहा कि यहां जो दृश्य दिख रहा है उसे देखकर क्या सीन है…शानदार भी कहा। नोटबंदी के फैसले को भी उन्होंने मनमाना करार देते हुए कहा कि यह पार्टी का फैसला नहीं था।
-ममता बनर्जी ने मंच से मोदी सरकार पर हमला बोला और कहा कि मोदी सरकार ने सीबीआई के सम्मान को खत्म कर दिया। सीबीआई में अफसर खराब नहीं हैं। उन्होंने कहा कि हमारे गठबंधन में सभी नेता हैं। अब बीजेपी के अच्छे दिन नहीं आने वाले हैं। दिल्ली की सभी सीटों पर बीजेपी की हार होगी। अगर बीजेपी देश में दोबारा आता है तो देश का नुकसान होगा।
Please follow and like us: