सिर पर चुनाव प्रचार, बीजेपी पड़ गई बीमार, पढ़ें जेटली से लेकर शाह तक कई नेता चल रहे बीमार

नई दिल्ली, (PNL) : बीजेपी के कद्दावर नेताओं के बीमार होने का स‍िलस‍िला थमने का नाम नहीं ले रहा. 2016 में सुषमा स्वराज की क‍िडनी फेल होने से जो स‍िलस‍िला शुरू हुआ वह अभी भी जारी है. सुषमा स्वराज, मनोहर पर्रिकर, अरुण जेटली तो लंबे समय से बीमारी झेल ही रहे थे, न‍ितिन गडकरी, रव‍िशंकर प्रसाद, अम‍ित शाह भी बीमार हो गए. अब बीजेपी के राष्ट्रीय महासच‍िव रामलाल भी बुधवार रात से अस्पताल में भर्ती हैं.
बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव रामलाल को नोएडा के कैलाश अस्पताल में भर्ती कराया गया है. उन्हें बुखार और खांसी की शिकायत के बाद बुधवार रात अस्पताल लाया गया. डॉक्टरों का कहना है कि उनकी हालत अभी स्थिर है.
भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह को स्वाइन फ्लू हुआ है. बुधवार देर रात मेडिकल रिपोर्ट आने के बाद उन्हें आनन-फानन में एम्स में भर्ती किया गया. एम्स में दाखिल होने से पहले उनके इलाज के लिए वरिष्ठ डॉक्टरों की टीम तैनात हो गई. डॉक्टरों का कहना है कि पिछले 2 दिन से अमित शाह को बदन दर्द, छाती में दर्द और सांस लेने में तकलीफ की शिकायत हो रही थी. कहा जा रहा है कि उन्हें एक-दो दिन में अस्पताल से छुट्टी मिल जाएगी.
केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद को गुरुवार को अस्पताल से छुट्टी मिल गई है. प्रसाद को श्वास नली में दिक्कत के बाद सोमवार को अस्पताल में भर्ती कराया गया था. उन्हें सीने में दर्द की भी शिकायत थी. वे एम्स के पल्मोनरी विभाग के आईसीयू में ही भर्ती रहे थे. अस्पताल से बाहर आने के बाद उन्होंने सभी का शुक्र‍िया अदा क‍िया.
केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली का स्वास्थ्य भी ठीक नहीं है. जेटली के स्वास्थ्य और स्वास्थ्य संबंधी परेशानी के बारे में कोई आधिकारिक रूप से कुछ नहीं कहना चाहता. वह अपना इलाज कराने के लिए रविवार से अमेरिका में हैं. अगले सप्ताह तक वे अपनी जांच कराकर लौट सकते हैं.
गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर 11 महीनों से बीमार चल रहे हैं. वह अग्नाश्य की बीमारी से पीड़ित हैं. साल 2018 के शुरुआती 3 महीने अमेरिका में इलाज कराने के बाद उनका इलाज एम्स में चला. उन्हें 16 दिसंबर को एम्स से छुट्टी मिली. इसके करीब 2 माह बाद वे सार्वजनिक तौर पर लोगों के सामने आए थे.
विदेश मंत्री सुषमा स्वराज भी इस वक्त पूर्ण रूप से ठीक नहीं हैं. इसी के चलते उन्होंने 2019 में लोकसभा चुनाव न लड़ने का फैसला लिया है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक वह 2016 में कह चुकी हैं कि उनकी किडनी फेल हो गई है और वो डायलसिस पर हैं. इसके बाद सुषमा स्वराज की किडनी का ऑपरेशन हुआ था.
केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी भी कुछ समय से बीमार चल रहे हैं. कुछ समय पहले 7 द‍िसंबर को वे एक कार्यक्रम में पहुंचे थे, जहां उनका शुगर लेवल लो हो गया और वे बेहोश हो गए थे. उसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था.
Please follow and like us: