‘बिजनेस’ में भारत की बड़ी उछाल, 100वें से 77वें स्थान पर आया, मोदी ने दी बधाई

नई दिल्ली, (PNL) : विश्व बैंक ने अपनी ताजा डूइंग बिजनेस रिपोर्ट (डीबीआर 2019) आज नई दिल्ली में जारी कर दी है. भारत ने व्यापार करने की सुगमता में 23 रैंक की छलांग लगाई है और साल 2017 की 100वें स्थान से उछाल भरकर भारत 77वें स्थान पर आ गया है. वर्ल्ड बैंक ने 190 देशों की सूची में से ये लिस्ट जारी की है. भारत के लिए ये खबर इसलिए भी अहम है क्योंकि पिछले साल भी भारत ने ईड ऑफ डूईंग बिजनेस रैंकिंग में 30 रैंक की छलाांग लगाई थी और ये 130वें स्थान से 100वें स्थान पर आ गया है. भारत सरकार की लगातार जारी कोशिशों के बीच देश ने 2 सालों में ईज ऑफ डूइंग बिजनेस रैंकिंग में 53 स्थानों की अहम बढ़त हासिल की है. पीएम नरेंद्र मोदी ने इस उछाल के लिए बधाई भी दी है।
पिछले कुछ सालों में भारत की रैंकिंग ये रही है
2018 – 77वां रैंक
2017 – 100वां रैंक
2016 – 130वां रैंक
2015 – 130वां रैंक
2014 – 142वां रैंक
ईज ऑफ डूईंग बिजनेस से अर्थ है कि देश में कारोबार करने में कारोबारियों को कितनी आसानी होती है. कारोबार के नियामकों और उनके नियमों के मुताबिक 10 मानकों पर कारोबार करने की शर्तों को देखा जाता है कि किसी देश में ये कितना आसान या मुश्किल है. डूईंग बिजनेस रैंकिंग डिस्टेंस टू फ्रंटियर (डीटीएफ) के आधार पर तय किया जाता है और ये स्कोर दिखाता है कि वैश्विक मानकों पर अर्थव्यवस्था कारोबार के मामले में कितना अच्छा प्रदर्शन कर रही है. इस साल भारत का डीटीएफ स्कोर पिछले साल के 60.76 से बढ़कर 67.23 पर आ गया है.
कारोबार की सुगमता किसी देश की रैंकिंग के जो 10 पैमाने होते हैं उसके 10 में से 7 संकेतकों में विश्व के सबसे अच्छे मानकों के भारत और करीब पहुंच गया है. पहले ये 10 में से 6 मानकों के सबसे अच्छे होने की स्थिति में था. हालांकि सबसे अच्छी बात ये है कि निर्माण की गतिविधियों के पैमाने पर देश ने सबसे अच्छी प्रगति हासिल की है और ये सीमाओं के पार भी फैल रही है.
Please follow and like us:
error: Content is protected !!