कंगारुओं पर भारी पड़े भारतीय गेंदबाज, अश्विन ने झटके तीन विकेट, ऑस्ट्रेलिया का स्कोर 191/7

स्पोर्ट्स डेस्क, (PNL) : अनुभवी ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने ऑस्ट्रेलियाई शीर्षक्रम को सस्ते में समेट दिया, जबकि तेज गेंदबाजों ने रनगति पर अंकुश लगाकर पहले क्रिकेट टेस्ट के दूसरे दिन शुक्रवार को भारत का पलड़ा भारी कर दिया. ऑस्ट्रेलिया के लिए आखिरी सत्र में ट्रेविस हेड (नाबाद 61) और पैट कमिंस (10) ने 50 रनों की साझेदारी की, लेकिन आखिर में कमिंस के आउट होने से भारत ने फिर दबाव बना दिया.
दूसरे दिन का खेल समाप्त होने पर ऑस्ट्रेलिया ने 88 ओवर में सात विकेट पर 191 रन बना लिये थे. अश्विन ने 33 ओवर में 50 रन देकर तीन विकेट लिये. तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ने 34 और ईशांत शर्मा ने 31 रन देकर दो दो विकेट झटके. मिशेल स्टार्क आठ रन बनाकर हेड के साथ क्रीज पर मौजूद थे. ऑस्ट्रेलिया भारत के पहली पारी के 250 रन से अभी भी 59 रन पीछे है और उसके तीन ही विकेट बाकी हैं.
चाय के बाद ऑस्ट्रेलिया ने दस रन और आठ ओवर के भीतर दो विकेट गंवाए. भारतीय गेंदबाजों ने नियमित अंतराल पर विकेट लेकर दबाव बनाए रखा. पीटर हैंडस्कॉम्ब (34) आउट होने वाले पहले बल्लेबाज रहे, जो बुमराह को कट शॉट खेलने के प्रयास में विकेट के पीछे कैच दे बैठे.
इसके बाद ईशांत ने ऑस्ट्रेलियाई कप्तान टिम पेन (पांच) को उसी अंदाज में पवेलियन भेजा. ऑस्ट्रेलिया के छह विकेट 127 रन पर गिर गए, जिसके बाद हेड और कमिंस ने सातवें विकेट के लिए अर्धशतकीय साझेदारी की. उल्लेखनीय है कि भारत ने भी अपनी पहली पारी में इतने ही रनों पर अपना छठा विकेट गंवाया था. हेड ने अपना दूसरा टेस्ट अर्धशतक 103 गेंदों में पूरा किया. कमिंस को बुमराह ने एलबीडबब्ल्यू किया.
लंच के बाद अश्विन ने ऑस्ट्रेलिया के दो बल्लेबाजों को आउट किया. पहले शॉन मार्श (दो) ने लंच के तुरंत बाद अपना विकेट गंवा दिया. पहले ही ओवर में अश्विन को आक्रामक शॉट खेलने के प्रयास में वह आउट हो गए. उस समय ऑस्ट्रेलिया का स्कोर तीन विकेट पर सिर्फ 59 रन था.
उस्मान ख्वाजा (28) और हैंडस्कॉम्ब ने चौथे विकेट के लिए 28 रन जोड़े. हैंडस्कॉम्ब ने मोहम्मद शमी को कुछ शुरूआती चौके लगाकर रनगति को आगे बढ़ाया. अश्विन ने 40वें ओवर में ख्वाजा को आउट कर इस साझेदारी को तोड़ा. वह विकेट के पीछे ऋषभ पंत को कैच देकर आउट हुए. भारत ने डीआरएस रिव्यू पर यह विकेट हासिल किया. ऑस्ट्रेलिया का स्कोर उस समय चार विकेट पर 87 रन हो गया.
ऑस्ट्रेलिया ने लंच तक दो विकेट 57 रन पर गंवा दिए थे. ईशांत शर्मा ने उनकी पारी की तीसरी गेंद पर एरॉन फिंच (0) को आउट किया. ख्वाजा और टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण कर रहे सलामी बल्लेबाज मार्कस हैरिस (26) ने कुछ देर संभलकर खेलने की कोशिश की. दोनों ने 20. 4 ओवर में 45 रन जोड़े. यह भारत के शीर्ष चार विकेटों से लिए हुई किसी भी साझेदारी से बड़ी थी.
भारतीय तेज गेंदबाजों ने काफी रफ्तार के साथ गेंद डाली. बुमराह ने तो एक समय 150 किमी की गति से भी गेंदबाजी की, लेकिन कई बार अच्छी लेंथ नहीं पकड़ सके. अश्चिन को 12वें ओवर में गेंद सौंपी गई, जिसने हैरिस को परेशान किया. लंच से पहले हैरिस को अश्विन ने सिली मिड ऑफ पर लपकवाया.
इससे पहले मोहम्मद शमी (छह) दूसरे दिन जोश हेजलवुड की पहली ही गेंद पर आउट हो गए, जिन्होंने विकेट के पीछे कैच थमाया. इसके साथ ही भारतीय पारी का अंत हो गया. ऑस्ट्रेलिया के लिये हेजलवुड ने 52 रन देकर तीन विकेट झटके, जबकि मिशेल स्टार्क, पैट कमिंस और नाथन लियोन को दो-दो विकेट मिले.
Please follow and like us: