भारत में 50 करोड़ मोबाइल नंबर बंद होंगे या नहीं, UIDAI ने स्पष्ट की स्थिति

नई दिल्ली, (PNL) : देश के 50 करोड़ मोबाइल यूजर्स का नंबर बंद होने की खबर सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रही थी लेकिन अब इसे अफवाह बताया जा रहा है. पहले इस खबर में बताया जा रहा था कि जिन मोबाइल यूजर्स ने कनेक्शन लेने के दौरान आधार कार्ड के अलावा कोई और दूसरा पहचान पत्र नहीं दिया है, उनका सिम डिसकनेक्ट हो जाएगा लेकिन अब दूरसंचार विभाग और भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (यूआईडीएआई) ने मीडिया में चल रही ऐसी खबरों को अफवाह बताया है.
बयान जारी करते हुए बताया गया है कि मीडिया में 50 करोड़ मोबाइल उपभोक्ताओं के नंबर जल्द ही बंद होने की बात कही जा रही है जो कि देश में लगभग कुल मोबाइल सर्कुलेशन का आधा है. ऐसा कभी हो ही नहीं सकता कि आधे से ज्यादा कनेक्शन बंद कर दिए जाएं. ये बिल्कुल गलत खबर फैलाई जा रही है.
इससे पहले खबर थी कि देश के 50 करोड़ मोबाइल उपभोक्ताओं के नंबर जल्द ही बंद हो सकते हैं. यह खतरा उन मोबाइल उपभोक्ताओं के लिए था जिन्होंने कनेक्शन लेने के दौरान आधार कार्ड के अलावा कोई और दूसरा पहचान पत्र नहीं दिया था. ऐसे में केवल आधार कार्ड देकर मोबाइल कनेक्शन लेने वाले लोगों को नई केवाईसी प्रक्रिया से गुजरना पड़ता. आधार वेरिफिकेशन के जरिए लिए गए इन सिम कार्ड को अगर किसी दूसरे आइडेंटिफिकेशन प्रक्रिया का बैकअप नहीं मिला, तो ये जल्द ही डिसकनेक्ट या डिएक्टिव हो जाएंगे.
Please follow and like us:
error: Content is protected !!