मुंह में अमन, बगल में छुरी : करतारपुर कॉरिडोर के शिलान्यास दौरान खालिस्तानी आतंकी भी था मौजूद, पाक चीफ से मिलने की तस्वीर आई सामने, भारत को है तलाश

नई दिल्ली, (PNL) : भारत-पाकिस्तान के बीच बनने बनाए जा रहे करतारपुर साहिब गलियारे की नींव बुधवार को पाकिस्तान में रखी गई. इस मौके पर पाकिस्तान के आर्मी चीफ कमर जावेद बाजवा और खालिस्तान समर्थक गोपाल सिंह चावला के मिलने की तस्वीर से एक बार फिर विवाद खड़ा हो गया है.
दरअसल गोपाल सिंह चावला पाकिस्तान सिख गुरुद्वारा प्रबंधक केमेटी का महासचिव है और उसे 26/11 मुंबई हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद का करीबी माना जाता है. बीते 21 और 22 नवंबर को भारतीय उच्चायोग के राजनयिक अधिकारियों के साथ गुरुद्वारा ननकाना साहब और गुरुद्वारा सच्चा सौदा में बदसलूकी में भी चावला का नाम सामने आया था.
गौरतलब है कि दिल्ली में जांच एजेंसियों की एक बैठक में पाकिस्तान में मौजूद खालिस्तान समर्थक आतंकी गोपाल सिंह चावला को लेकर कई सूचनाएं साझा की गई थीं. सूत्रों के अनुसार गोपाल सिंह चावला पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई और लश्कर-ए-तैयबा चीफ हाफिज सईद के साथ मिलकर पंजाब में आतंक फैलाने की साजिश रच रहा है.
कुछ महीनों पहले पाकिस्तान में हाफिज सईद से चावला की मुलाकात की फोटो भी जांच एजेंसियों के हाथ लगी थी. इससे खालिस्तान समर्थकों के पाकिस्तान के आतंकी संगठनों से रिश्ते होने की आशंका पुष्ट मानी जा रही है. सूत्रों ने बताया कि सोशल मीडिया के जरिए गोपाल सिंह चावला के भड़काऊ बयान पोस्ट किए जा रहे हैं. साथ ही सोशल मीडिया के जरिए ही लड़कों को खालिस्तान के लिए नियुक्त किया जा रहा है. एनआईए की जांच में यह भी खुलासा हुआ कि पंजाब में धार्मिक संगठन और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के कार्यकर्ता निशाने पर हैं.
देश के बाहर बैठे खालिस्तान समर्थक जो आतंकी साजिश रहे हैं उनमें गोपाल सिंह चावला (पाकिस्तान), हरमित सिंह उर्फ हैप्पी (पाकिस्तान), गुरुजिंदर सिंह उर्फ शास्त्री (इटली में होनी की खबर), गुरुशरणबीर सिंह उर्फ गुरुशरण सिंह वालिया उर्फ पहलवान (ब्रिटेन), गुरुजंत सिंह ढिल्लन (ऑस्ट्रेलिया) शामिल हैं. पंजाब के आतंकियों का कनेक्शन पश्चिमी यूपी से होने की बातें भी कही जा रही हैं. इसलिए यूपी पुलिस भी अलर्ट पर है.
गौरतलब है कि पंजाब के अमृतसर शहर के एक गांव में हुए आतंकी हमले ने पूरे देश को झकझोर कर रख दिया है. राजासांसी के अदावली गांव के संत निरंकारी भवन में हुए इस ब्लास्ट में 3 लोगों की मौत हो गई. जिसके बाद पंजाब समेत राजधानी दिल्ली, हरियाणा और एनसीआर में हाई अलर्ट है.
Please follow and like us: