जैश-ए-मोहम्मद का प्रवक्ता है पाकिस्तान, भारतीय विदेश मंत्रालय ने प्रैस वार्ता करके लगाए आरोप

नई दिल्ली, (PNL) : भारतीय विदेश मंत्रालय ने शनिवार सुबह प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए पाकिस्तान पर गंभीर आरोप लगाए। विदेश मंत्रालय ने कहा कि पाकिस्तान की आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई करने की मंशा नहीं है। वह लगातार झूठ बोल रहा है। 26 फरवरी को भारत की एयर स्ट्राइक के जवाब में अगली सुबह पाक ने भारत पर हवाई हमला किया था, जिसे भारतीय वायुसेना ने नाकामयाब कर दिया। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार के मुताबिक- भारत के दो विमान गिराने का पाकिस्तानी दावा झूठा है। पाक ने इस दौरान एफ-16 का इस्तेमाल किया था। भारत के पास इसके इलेक्ट्रानिक सबूत और गवाह मौजूद हैं, जो उसे बेनकाब करता है।
‘पाक दूसरे एयरक्राफ्ट को गिराने के सबूत क्यों नहीं देता’
विदेश मंत्रालय के मुताबिक, “अगर पाकिस्तान दावा करता है कि उसके पास दूसरे एयरक्राफ्ट को गिराने के सबूत हैं तो वह इसके वीडियो और फोटो शेयर क्यों नहीं करता? हमारे पास सबूत हैं कि पाक ने भारत पर हमले के लिए एफ-16 विमान इस्तेमाल किया। पाकिस्तान को यह बताना चाहिए कि वह एफ-16 के गिराए जाने की बात से क्यों मुकर रहा है? हमने इस बारे में अमेरिका को भी सूचना दी है। पुलवामा हमले के बाद अंतरराष्ट्रीय समुदाय भारत के साथ खड़ा है। पाकिस्तान से भी आतंक का सफाया करने के लिए कहा गया है। संयुक्त राष्ट्र ने भी इसके लिए निंदा प्रस्ताव पास किया था। इसमें सीधे जैश-ए-मोहम्मद का नाम लिया गया था। यूएन की प्रेस रिलीज में भी यह कहा गया था।
‘पाक अपने लोगों को बचा रहा है’
विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि शाह महमूद कुरैशी ने कुछ बयान दिए थे। क्या पाकिस्तान अपने लोगों को बचा रहा है? चुनाव जीतने के बाद पाक प्रधानमंत्री ने कहा था कि वो किसी भी तरह से आतंकियों को अपनी जमीन इस्तेमाल नहीं करने देंगे। लेकिन अभी तक उन्होंने कोई कार्रवाई नहीं की। पाकिस्तान में आतंकी ठिकानों के बारे में सभी को पता है। जैश ने खुद हमले की बात कबूली लेकिन पाकिस्तान यह मानने के लिए तैयार नहीं है। वह बिल्कुल जैश के प्रवक्ता काम कर रहा है।”
Please follow and like us: