पंजाबभर में फूड सेफ्टी टीमों की बड़ी छापेमारी, 3890 लीटर संदिग्ध तेल बरामद, 600 लीटर से ज्यादा एक्पायरी

चंडीगढ़, (PNL) : फूड सेफ्टी टीमों ने अपनी जांच को जारी रखते हुए एक बड़ी सफलता हासिल की है। पंजाबभर में फूड सेफ्टी टीमों ने आज छापेमारी की है। टीम ने दो टैंकरों को ज़ब्त किया जो 28 मीट्रिक टन और 27 मीट्रिक टन संदिग्ध रिफायंड पाल्म तेल ले जा रहे थे और टीम द्वारा 1602 लीटर खाना पकाने वाला तेल, 930 किलोग्राम वनस्पती घी और 800 लीटर रिफायंड सोयाबीन तेल और साथ ही समय सीमा समाप्त 558 लीटर खाना पकाने वाले पदार्थों को भी ज़ब्त किया। यह जानकारी फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन, पंजाब के कमिश्नर श्री के.एस पन्नू ने दी।
जानकारी के मुताबिक फूड सेफ्टी टीम, मानसा ने डेयरी विभाग के साथ मिलकर सरदूलगढ़ के खाना पकाने वाले तेल के उत्पादन यूनिट में छापा मारा। उत्पादों को दूध के फैट से तैयार होने का दावा किया गया था परन्तु इस यूनिट में दूध के फैट का कोई नामो -निशान नहीं था। इसके बाद टीम ने 89 बक्से खाना पकाने वाला तेल (1602 लीटर), 930 किलोग्राम वनस्पती घी, 800 लीटर सोयाबीन तेल ज़ब्त किया। खाना पकाने वाले तेल, वनस्पती घी और सोयाबीन तेल के नमूने विश्लेषण हेतु लिए गए।
इसके अलावा समय सीमा समाप्त खाना पकाने वाले तेल के 31 बक्से (558 लीटर) और 390 लीटर खुला खाना पकाने वाला तेल भी ज़ब्त किया गया। फूड सेफ्टी टीम, एस.बी.एस नगर ने दूसरे राज्यों से लाए जाने वाले संदग्धि खाद्य पदार्थों को ज़ब्त करने के लिए गढ़शंकर रोड नवांशहर पर एक विशेष नाका लगाया। नाके के दौरान दो टैंकर ज़ब्त किये गए जो गुजरात की दो कंपनियों द्वारा भेजे गए 28 मीट्रिक टन और 27 मीट्रिक टन संदिग्ध रिफायंड पाल्म तेल ले जा रहे थे और जांच के लिए दोनों टैंकरों में से संदिग्ध रिफायंड पाल्म तेल के नमूने लिए गए।
पुलिस विभाग ने मुक्तसर टीम के साथ मिलकर गुर बाज़ार मलोट में सिदाना दुकान से अमन लाईट मार्का का 23 लीटर खाना पकाने वाला तेल और हरियाणा दीप मार्का का 25 किलो नकली देसी घी ज़ब्त किया गया। अगली जांच के लिए नमूने लिए गए।
फूड सेफ्टी टीम फतेहगढ़ साहिब ने डेयरी विभाग के साथ मिल कर गाँव सरकपड़ा, चुन्नीकलां में इंद्र डेयरी पर प्रात:काल 3 बजे छापेमारी करके 200 लीटर दूध, 400 किलो पनीर, 300 किलो दही, 40 किलो क्रीम, 35 किलो खोया और 200 किलो मिल्क पाउडर बरामद किया। दूध और दूध उत्पादों के नमूने लिए गए। खऱाब हो चुके 40 किलो दही, 60 लीटर दूध और 2 किलो क्रीम को मौके पर ही नष्ट कर दिया गया।
फूड सेफ्टी टीम जालंधर और एस.बी.एस. नगर की संयुक्त टीम ने डेयरी विभाग के साथ मिलकर मानक डेयरी, गाँव चकदाना के मालिक की रिहायश पर छापेमारी की और लगभग 1.5 क्विंटल मिक्स्ड मिल्क, 5 लीटर गाय का दूध और 50 किलो देसी घी बरामद किया। जांच के लिए टीम की तरफ से नमूने भी लिए गए।
फूड सेफ्टी विंग पठानकोट ने डेयरी विभाग, पठानकोट के साथ मिलकर नरोट जैमल सिंह और फतेहपुर की डेयरी और मिठाई की दुकान की जांच की जहाँ से 50 किलो घटिया किस्म का खोया, 50 किलो नकली पनीर और प्रतिबंधित सिंथेटिक रंगों को मिलाकर बनाई गई गुलाबी रंग की 25 किलो चमचम भी बरामद की। एफ. बी.ओ. की मंज़ूरी से सारा स्टॉक नष्ट कर दिया गया। साथ ही 10 किलो ‘कृष्णा’ बर्फी का एक पैकेट भी मिला, जोकि पूर्ण रूप से भ्रामक था और इसेे मौके पर ही नष्ट कर दिया गया।
मोहाली गाँव के बल्लो माजरा से 20 क्विंटल नकली पनीर, 89 किलो मक्खन और 10 किलो खोया बरामद हुआ जिसको एफ. बी. ओ. की मंज़ूरी से नष्ट कर दिया गया। इसके अलावा, फिऱोज़पुर और फाजिल्का के सरहदी इलाकों में से दूध और दूध से बने पदार्थों के नमूने भी लिए गए। गुरदासपुर जिले के कादियाँ और सथ्थाली इलाकों में से खोया बर्फी, दही, दूध, देसी घी, पनीर, केक, लाल मिर्च और हल्दी के 55 नमूने लिए गए।
Please follow and like us:
error: Content is protected !!