फिरोजपुर में कूड़ा फेंकने वालों को बेनकाब करेगा प्रशासन, कैमरों में कैद होंगे लोग, वायरल की जाएंगी तस्वीरें

फिरोजपुर, (PNL) : फिरोजपुर शहर को एक बार फिर से हरा, भरा और प्रदूषण मुक्त बनाने के लिए डिप्टी कमिश्नर चंद्र गैंद ने एक नई पहल की है। रविवार को सुबह वह नगर काउंसिल, सेहत महकमे समेत विभिन्न विभागों के अधिकारियों के साथ अढ़ाई घंटे तक फील्ड में डटे रहे। शहर में गंदगी वाले लगभग दस पॉइंट्स विजिट करने बाद डिप्टी कमिश्रनर चंद्र गैंद ने इन पॉइंट्स पर नाइट सर्विलांस वाले सीसीटीवी कैमरे लगाने का आदेश दिया। ये कैमरे दिन-रात गंदगी फैंकने वालों की निगरानी करेंगे। इसके बाद जो लोग गंदगी फैंकेंगे, उनकी तस्वीरें इन कैमरों से निकालकर सार्वजनिक की जाएंगी। इन लोगों को ढूंढकर इन्हें पेनल्टी लगाई जाएगी।
ये तस्वीरें सोशल मीडिया के अलावा शहर के पार्कों में लगी एलईडी स्क्रीनों पर भी दिखाई जाएंगी। इसके अलावा लोगों की सहूलियत के लिए नगर काउंसिल की तरफ से एक व्हॉट्स एप नंबर भी जारी किया जाएगा, जिस पर लोग कूड़े के ढेर या कूड़ा फेंकते हुए लोगों की तस्वीरें भेज सकेंगे। इन तस्वीरों के आधार पर त्वरित कार्रवाई की जाएगी और गंदगी फैंकने वालों का चालान किया जाएगा। डिप्टी कमिश्रनर श्री चंद्र गैंद ने कहा कि शहर की साफ-सफाई को लेकर उनका रुख बिल्कुल साफ है। लेकिन प्रशासन के साथ-साथ लोगों को खुद भी जागरूक होना पड़ेगा क्योंकि सफाई की शुरूआत खुद से ही शुरू होती है। डिप्टी कमिश्नर श्री चंद्र गैंद ने मक्खू गेट इलाके में कूड़े के ढेर को खुद झाड़ू से साफ किया और आसपास के लोगों को अपील की कि वह अपने इलाके की सफाई का जिम्मा खुद उठाएं।
डिप्टी कमिश्नर में ज्यादा गंदगी वाले दस पॉइंट्स का दौरा किया और इन पॉइंट्स की साफ-सफाई की जिम्मेदारी आसपास के दुकानदारों या फिर एरिया के जिम्मेदार लोगों को ही सौंप दी। इसके अलावा नगर काउंसिल के ईओ चरणजीत सिंह को सफाई के लिए मोहल्ला कमेटियां गठित करने के लिए कहा। ये कमेटियां समय-समय पर साफ-सफाई के कार्यों को रिव्यू करेंगी। डिप्टी कमिश्नर श्री चंद्र गैंद ने अमृतसरी गेट, मक्खू गेट, जीरा गेट, जीरा गेट के पिछले इलाके, दशहरा ग्राउंड, धवन कालोनी, हरप्रीत नगर, मल्लांवाला रोड, जीरा गेट के बाहरी इलाके, दशहरा ग्राउंड से सटी रोड पर करीब दस लोकेशंस चैक की। डिप्टी कमिश्नर ने मौके पर आदेश दिया कि सोमवार से इन लोकेशंस पर सीसीटीवी कैमरा लगाने का काम शुरू कर दिया जाए।
यहां पर एक बोर्ड भी लगाया जाएगा, जिस पर लिखा होगा कि सावधान, आप सीसीटीवी कैमरे की निगरानी में हैं, इसलिए यहां कूड़ा न फैंके। इसके बावजूद जो लोग इन जगहों पर कूड़ा फैंकेंगे, उनकी तस्वीरें सार्वजनिक करने के अलावा उनके चालान काटे जाएंगे। जीरा गेट स्थित संडे सब्जी मंडी वाले इलाके में पार्क को गेट लगाने और वहां एक बड़ा डंप रखने का आदेश जारी किया। इसके अलावा जहां पर लोग कूड़े फैंकते हैं, वहां पर टाइलें लगाकर लोगों के बैठने के लिए बैंच लगाने का आदेश नगर काउंसिल के अधिकारियों को मौके पर ही दिया गया।
कुछ इलाकों में डोर ट डोर गारबेज कलेक्शन नहीं होने की वजह से वहां गंदगी की समस्या थी, जिसे गंभीरता से लेते हुए डिप्टी कमिश्नर श्री चंद्र गैंद ने नगर काउंसिल के अफसरों को संबंधित इलाकों में निशुल्क डोर टू डोर कलेक्शन शुरू करवाने का आदेश दिया। इसी तरह हरप्रीत नगर में एक खाली पड़े प्लाट में कूड़े के ढेर को देखकर डिप्टी कमिश्नर ने नगर काउंसिल से प्लॉट मालिक को नोटिस जारी करने का आदेश दिया।
डिप्टी कमिश्नर श्री चंद्र गैंद ने शहर के मैरिज पैलेसों, अस्पतालों, होटल्स और शिक्षण संस्थानों को कड़े शब्दों में कहा कि वह अपना कूड़ा सड़कों या खाली प्लाटों पर न फैंके। इस संदर्भ में जल्द ही संबंधित संस्थानों के साथ एक बैठक भी बुलाई जाएगी। उन्होंने कहा कि होटल्स और मैरिज पैलेसों को अपने-अपन परिसरों में ही किचन वेस्ट को बाकी के कूड़े से अलग रखना होगा। इन परिसरों में ही उन्हें कंपोस्ट यूनिट (खाद बनाने वाले संयंत्र) लगाने होंगे, जिसकी ट्रेनिंग नगर काउंसिल की तरफ से दी जाएगी। किचन वेस्ट को बाहर फैंकने की बजाय खाद बनाने के लिए इस्तेमाल किया जाएगा। उन्होंने बताया कि सब्जी मंडी में 80 कंपोस्ट पिट बनाए जा रहे हैं, जिसमें से 50 तैयार हो चुके हैं।
बाकी के कंपोस्ट पिटों (खाद बनाने वाली संयंत्रों) पर काम चल रहा है। इसके बाद सब्जी मंडी से निकलने वाले वेस्ट को यहीं पर खाद बनाकर खेतों में इस्तेमाल किया जाएगा। डिप्टी कमिश्नर ने कहा कि इन गंदगी वाले इलाकों में साफ-सफाई की जिम्मेदारी वहां की मोहल्ला कमेटियों को दी जाएगी और जो कमेटी अच्छा काम करेगी उसके काम की समीक्षा के बाद उसे अवार्ड भी दिया जाएगा। इस मौके पर एसडीएम फिरोजपुर अमित गुप्ता, नगर काउंसिल के ईओ चरणजीत सिंह, सीनियर मेडीकल ऑफिसर प्रदीप अग्रवाल, सैनेटरी इंस्पेक्टर सुखपाल सिंह, जिला रेडक्रास सोसाइटी के सचिव अशोक बहल, जिला खेल अधिकारी सुनील कुमार, नेहरू युवा केंद्र के कोआर्डिनेटर सरबजीत सिंह बेदी, डीसीएम स्कूल्स के सीईओ अनिरुद्ध गुप्ता समेत कई अधिकारी मौजूद थे।
Please follow and like us: