जालंधर : सुनार को फोन करके दस लाख रुपए फिरौती मांगने वाले चार आरोपी पुलिस ने पकड़े, पढ़ें

जालंधर, (PNL) : दीन दयाल उपाध्य नगर के सुनार विशाल चड्ढा को फोन करके दस लाख रुपए फिरौती मांगने वाले चार आरोपियों को कमिश्नरेट पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। उनके पास से 50,000 रुपए, दो मोबाइल, एक बाइक, एक चोरी की हुई एक्टिवा (PB08-CL-9172), एक धारदार हथियार और एक खिलौना पिस्तौल भी बरामद की है। आरोपियों की पहचान न्यू गुरदेव नगर के अमनदीप सिंह (22), उनके नाबालिग भाई (16), अमृतसर में फतेह सिंह नगर के उनके मामा जोध सिंह (32) और प्रताप नगर, सोदल के दीपक उर्फ ​​नन्नू (23) के रूप में हुई है।
पुलिस कमिश्नर गुरप्रीत सिंह भुल्लर ने बताया कि कुछ अज्ञात व्यक्ति सुनार को धमकी देकर 10 लाख रुपये की मांग कर रहे थे। साथ कह रहे थे कि अगर वह फिरौती की रकम नहीं देंगे तो वह उसके बेटे को मार डालेंगे। कमिश्नर ने कहा कि धमकी सुनकर सुनार घबरा गया था और उसने ब्लैक बैग में 50,000 रुपये का भुगतान कर दिया और सरब मल्टीप्लेक्स के पास जीटी रोड पर फूलों के बर्तनों में चुपके से फेंक दिया। बैग तीन बाइक वाले व्यक्तियों द्वारा उठाया लिया गया। इसके बाद सुनार ने घटना के बारे में पुलिस को शिकायत की और अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 384, 34, 379 और 411 के तहत मामला दर्ज किया गया।
जांच में पता चला कि आरोपियों में एक नाबालिग है, जो सुनार के बेटे का जानकार था। उसने कई बार पहले घर की रेकी की और फिर अमनदीप और दीपक के साथ परिवार से पैसे निकालने की साजिश रची थी। उन्होंने कहा कि 5 अप्रैल को आरोपी ने अपने मोबाइल पर सुनार को फोन किया कि किसी ने उन्हें मारने का ठेका दिया है और अगर वह अपनी जान बचाना चाहते हैं, तो उन्हें 10 लाख रुपये देने होंगे।
जब शिकायतकर्ता ने उनकी कॉल पर कोई ध्यान नहीं दिया, तो आरोपियों ने 14 अप्रैल को फिरौती के लिए दबाव बनाने के लिए ज्वेलर की एक्टिवा (PB08-CL-9172) चुरा ली। आरोपी ने फिर से उसे फोन किया और उसके बेटे का अपहरण करने की धमकी दी। साथ ही कहा कि अगर वह तेरी एक्टिवा चुरा सकते हैं तो वह बेटे को भी उठा सकते हैं। जिसके बाद पीड़ित ने उन्हें 6 लाख रुपये देने के लिए सहमति दी, लेकिन उसने बैग में केवल 50,000 रुपये दिए। चोरी की गई एक्टिवा को 5000 रुपये के जोध सिंह को बेच दिया गया, जो अमनदीप का मामा है और नाबालिग है। इसके अलावा उन्होंने कबूल किया कि जबरन पैसे प्राप्त करने के बाद उन्होंने बड़ी फिरौती के पैसे के लिए ज्वेलर के बेटे को अगवा करने की साजिश रची थी।
Please follow and like us: