जहां कमजोर रही मोदी सरकार, मेनिफेस्टो में सबसे ज्यादा वहीं प्रहार, कांग्रेस ने जारी किया चुनावी घोषणापत्र

नई दिल्ली, (PNL) : लोकसभा चुनाव 2019 के लिए कांग्रेस ने घोषणापत्र जारी किया है. इस घोषणापत्र को जनआवाज नाम दिया गया है और इसकी टैगलाइन ‘हम निभाएंगे’ रखी गई है. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने 2019 के लिए पांच योजनाओं की घोषणा की है, जिसे उन्होंने ‘पंजा’ बताया है. राहुल ने अपने घोषणा के जरिए किसान, नौजवान, रोजगार और गरीबों को साधने की कवायद की है. ऐसे में सवाल है कि राहुल का पंजा क्या सत्ता में कांग्रेस की वापसी करा पाएगा?
1. न्याय
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ‘न्याय’ योजना के जरिए गरीबों का दिल जीतने की कोशिश की है. घोषणापत्र जारी करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि इसमें सिर्फ पांच बातों पर फोकस है, क्योंकि कांग्रेस का लोगो ही पंजा है. सबसे पहले बात न्याय की आय, जिसके जरिए हम सभी के खातों में पैसा डालेंगे. ‘गरीबी पर वार, 72 हजार’ ये पैसे हर साल दिए जाएंगे. इससे सीधे तौर पर अर्थव्यवस्था को फायदा मिलेगा.
राहुल ने कहा कि हम चाहते थे कि इसमें जनता की आवाज हो इसलिए मैंने कमेटी से कहा था कि आम लोगों से बात करना जरूरी है. मेरा कहना साफ था कि इसमें कोई झूठ नहीं होना चाहिए, क्योंकि हम प्रधानमंत्री की तरह झूठ नहीं बोलते हैं.
2. रोजगार
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने युवाओं को साधने के लिए खाली पड़े 22 लाख सरकारी नौकरियों को भरने की बात कही है. उन्होंने कहा, ‘हम मोदीजी की तरह दो करोड़ रोजगार देने की बात नहीं करेंगे. हम अभी जो 22 लाख पद खाली पड़े हैं उन्हें मार्च 2020 तक भरेंगे. इसका मतलब साफ है कि राहुल ने एक साल के अंदर 22 लाख सरकारी नौकरी देने का वादा किया है. इसके अलावा राहुल गांधी ने 10 लाख युवाओं को ग्राम पंचायतों में रोजगार देने की बात कही है. राहुल ने कहा कि हिंदुस्तान के युवाओं को 3 साल के लिए व्यापार खोलने के लिए किसी परमिशन की जरूरत नहीं होगी.
3. मनरेगा
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ग्रामीणों को साधने के लिए मनरेगा की 150 दिन रोजगार की गारंटी का वादा किया है. राहुल ने कहा कि मनरेगा ने 2009 में देश के अर्थ व्यवस्था को मजबूती दी थी, इसे देश के बड़े-बड़े से अर्थशास्त्रियों ने सराहा था.
4. किसान
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने किसानों को साधने के लिए अपने घोषणा पत्र में बड़ा वादा किया है. किसानों के लिए अलग से बजट होगा. राहुल ने कहा कि देश के किसानों का अपना अलग बजट आएगा, ताकि किसानों को पता चल सके कि उनके लिए सरकार क्या कदम उठा रही है. इसके अलावा राहुल गांधी ने किसानों के कर्ज न अदा कर पाने की स्थिति में जो क्रिमिनल ऑफेंस माना जाता था, उसे वो खत्म करेंगे. इसकी जगह किसानों के कर्ज अदा न कर पाने के लिए सिविल ऑफेंस माना जाएगा.
5. शिक्षा और स्वास्थ्य
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शिक्षा पर बजट का 6 फीसदी पैसा खर्च करने की बात कही है. उन्होंने कहा कि मोदी सरकार शिक्षा पर ध्यान नहीं दिया है. ऐसे में हम वादा करते हैं कि सरकार में आने पर हम शिक्षा की दिशा और दशा को सुधारने के लिए 6 फीसदी पैसा खर्च करेंगे. इसके अलावा स्वास्थ्य सेवा के लिए मोदी सरकारी की तरह हेल्थ बीमा योजना के बजाय सरकारी अस्पतलाओं को बेहतर बनाने का वादा किया है. राहुल ने कहा कि गरीब से गरीब आदमी को हाई क्वालिटी अस्पतालों की सुविधा मिले. हम ऐसी स्कीम लाएंगे.
6. टैक्स
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि कांग्रेस बीजेपी के टैक्स टेररिज्म को रोकेगी. जीएसटी 2.0 के तहत नए और सरल नियम लाए जाएंगे.
7. जेंडर जस्टिस
महिलाओं के लिए 33 प्रतिशत आरक्षण का बिल कांग्रेस लाएगी. जिसे 17 वीं लोकसभा में पटल पर रखा जाएगा. इसके तहत 33 प्रतिशत सीट लोकसभा और विधानसभा में आरक्षित होगी. साथ ही केंद्र सरकार की नौकरियों में भी महिलाओं को 33 प्रतिशत आरक्षण दिया जाएगा.
8. प्राइवेसी पर कानून
कांग्रेस आधार कार्ड के सही इस्तेमाल और निजता पर क़ानून लाएगी. इसके तहत लोगों की जानकारियों की सुरक्षा पर क़ानून बनेगा. इसके अलावा आउटडेटेड हो चुके कानूनों को भी हटाया जाएगा.
9. हेट क्राइम
मॉब लिंचिंग, एट्रोसिटी और हेट क्राइम को रोकने के लिए भी कांग्रेस कड़े कदम उठाएगी. ख़ासतौर पर एससी, एसटी, एसटी, महिला और अल्पसंख्यकों पर होने वाले अत्याचारों को रोकने कदम उठाए जाएंगे.
10. पर्यावरण और जलवायु परिवर्तन
प्रदूषण से निपटने के लिए भी कांग्रेस ने मेनिफेस्टो में वादा किया है. कांग्रेस नेशनल क्लीन एयर प्रोग्राम लाएगी जिसके तहत पर्यावरण से जुडी नीतियों पर काम होगा.
Please follow and like us: