जालंधर में सैलून मालिक जोगी के सुसाइड केस में कांग्रेसी नेता मोना गिरफ्तार

बृजेश शर्मा, जालंधर (PNL) : सोढल रेलवे फाटक के पास फरवरी महीने में सैलून मालिक अरुण कुमार बस्सी उर्फ जोगी की आत्महत्या मामले में बड़ा खुलासा हुआ है। जोगी को आत्महत्या के लिए उसके दोस्त कांग्रेसी नेता दीपक एंग्रिश उर्फ मोना ने किया था। जीआरपी पुलिस ने मोना को हिरासत में ले लिया है और उससे पूछताछ की जा रही है। बताया जा रहा है कि जीआरपी को मृतक जोगी के फोन से एक वीडियो मिली है, जो उसने मरने से पहले बनाई थी। उस वीडियो में जोगी ने कहा था कि मोना ने उसको आर्थिक तौर पर बर्बाद कर दिया और उसी की वजह से वह जान दे रहा है।
एसएचओ धर्मेंद्र कल्याण ने बताया कि यह बात तो पहले ही क्लियर हो गई थी कि जोगी की लाश फेंकी नहीं गई थी, वह जिंदा ही घटनास्थल पर आया था। वहीं पोस्टमार्टम से यह बात भी साफ हो चुकी है कि जोगी के शरीर पर कोई तेजधार हथियार और रस्सी से गला घोंटने के जख्म नहीं थे। ये केस हत्या नहीं आत्महत्या है। जोगी की पत्नी के बयानों पर केस दर्ज किया गया है। उसने कहा कि मोना ने पति को कर्जे में डुबोया था और उनके पैसे भी वापस नहीं कर रहा था। मोना से दुखी होकर ही उसने जान दे दी। बता दें कि मोना को हाल ही में ब्लॉक प्रधान बनाया गया था।
Please follow and like us: