ऐन मौके पर नहीं बनी कांग्रेस और आप में गठबंधन की बात, पढ़ें क्या रही वजह

नई दिल्ली, (PNL) : लोकसभा चुनाव 2019 की राजनीतिक जंग फतह करने के लिए कांग्रेस अलग-अलग राज्यों में विभिन्न सियासी पार्टियों के साथ गठबंधन करने में जुटी है. इस कड़ी में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने आम आदमी पार्टी के साथ गठबंधन के मुद्दे पर दिल्ली में पार्टी के वरिष्ठ नेताओं की बैठक बुलाई, जिसमें तय हुआ है कि कांग्रेस दिल्ली में AAP के साथ मिलकर चुनाव नहीं लड़ेगी.
राहुल गांधी के साथ बैठक के बाद दिल्ली कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष शीला दीक्षित ने साफ कर दिया है कि दिल्ली में आम आदमी पार्टी के साथ कांग्रेस गठबंधन नहीं करेगी. शीला ने कहा, ‘ हमने राहुलजी को बताया कि AAP के साथ गठबंधन नहीं करना चाहिए. इस पर उन्होंने सहमति व्यक्त कर दी है.’
हालांकि उन्होंने कहा कि AAP को गठबंधन की बाध्यता दिखा रही हो, लेकिन हम तैयार नहीं है. हमने सर्वसम्मति से फैसला किया है कि कांग्रेस पार्टी AAP के साथ मिलकर चुनाव नहीं लड़ेगी. कहा जा रहा है कि आप की बिगड़ती छवि के कारण कांग्रेस उससे किनारा कर रही है.
बता दें कि आम आदमी पार्टी के साथ गठबंधन के लिए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाधी के आवास पर दोपहर में होगी. राहुल ने दिल्ली प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष शीला दीक्षित के साथ-साथ तीनों कार्यकारी अध्यक्षों- पूर्व विधायक हारुन यूसुफ, राजेश लिलोठिया और देवेंद्र यादव को बुलाया गया है. इसके अलावा पार्टी के पूर्व अध्यक्षों को भी उक्त बैठक में बुलाया गया है.
आम आदमी पार्टी लंबे समय से कांग्रेस के साथ गठबंधन करने पर जोर दे रही है. दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल तो यहां तक कह चुके थे कि हम तो तैयार हैं, लेकिन कांग्रेस इसके लिए तैयार नहीं है.
Please follow and like us: