न्यूजीलैंड मस्जिद हमले में अब तक 40 लोगों की मौत, एयर-न्यूजीलैंड की सभी उड़ानें रद्द, ऑस्ट्रेलिया ने की हमले की निंदा

क्राइस्टचर्च, (PNL) : न्यूजीलैंड के क्राइस्टचर्च में दो मस्जिद में हुए आतंकी हमले में 40 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। न्यूजीलैंड के प्रधानमंत्री जैसिंडा अर्डर्न का कहना है कि मस्जिदों पर हुए हमले में 40 लोगों की मौत हो गई. उन्होंने कहा कि डीन एवेन्यू मस्जिद में 30 लोग मारे गए और लिनवुड एवेन्यू मस्जिद में 10 अन्य लोगों की मौत हो गई है. यह आतंकी हमला था.
पीएम जैसिंडा अर्डर्न ने लोगों से फिलहाल मस्जिद में जाकर नमाज न पढ़ने की अपील की है. उन्होंने न्यूजीलैंड वासियों से मुस्लिम समुदाय के लिए समर्थन दिखाने की भी अपील की. पीएम जैसिंडा ने कहा कि मैं उम्मीद करती हूं कि न्यूजीलैंड के लोग मुस्लिमों के प्रति करुणा और समर्थन दिखाएंगे.
एयर न्यूजीलैंड की सभी फ्लाइट रद्द
पत्रकारों के साथ बात करते हुए न्यूजीलैंड की पीएम जैसिंडा अर्डर्न ने कहा कि हम जो जानते हैं, उससे लगता है कि हमले की योजना अच्छी तरह से बनाई गई है. संदिग्ध वाहनों से जुड़े दो विस्फोटक उपकरण मिले हैं और उन्हें डिफ्यूज कर दिया गया है. चार गिरफ्तार किए गए हैं. इनमें से एक ने सार्वजनिक रूप से कहा है कि वे ऑस्ट्रेलियाई मूल का है. संयुक्त खुफिया समूह को तैनात किया गया है और पुलिस मामले की जांच कर रही है.
सेना के अतिरिक्त पुलिस कर्मचारियों को इलाके में भेजा जा रहा है. एयर न्यूजीलैंड ने आज रात क्राइस्टचर्च से बाहर सभी टर्बोप्रॉप उड़ानों को रद्द कर दिया है और सुबह स्थिति की समीक्षा करेगा. घरेलू और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर जेट सेवाओं का संचालन जारी है. सुरक्षा बढ़ा दी गई है.
आस्ट्रेलिया ने की हमले की निंदा
ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन ने क्राइस्टचर्च मस्जिदों पर हुए हमले की निंदा की. उन्होंने कहा कि, “हम केवल सहयोगी नहीं हैं, हम सिर्फ साझेदार नहीं हैं, हम परिवार हैं. न्यूजीलैंड हमारा भाई है, आज हम शोक में हैं, हम हैरान हैं, हम स्तब्ध हैं, हम नाराज हैं, और हम न्यूजीलैंड के साथ खड़े हैं और हमले की निंदा करते हैं.
विपक्षी नेता बिल शॉर्टन ने क्राइस्टचर्च मस्जिद पर हमले की निंदा की और लोगों से हमलावर के वीडियो न तो शेयर करने और न ही उसे देखने की अपील की. उन्होंने कहा कि फुटेज को शेयर न करें. फुटेज न देखें. यह सामान्य जीवन का हिस्सा नहीं है. जिन लोगों ने यह हमला किया है, वे इस ओर ध्यान आकर्षित करना चाहते हैं.
Please follow and like us: