#me too में फंसे केबिनेट मंत्री चन्नी की कुर्सी जाएगी या नहीं, पढ़ें क्या बोले जाखड़


चंडीगढ़, (PNL) : एक महिला आईएएस अधिकारी की तरफ से लगाए गए #me too के आरोपों में घिरे केबिनेट मंत्री चरणजीत सिंह चन्नी की कुर्सी जाएगी या नहीं, इस पर अभी स्थिति स्पष्ट नहीं हो पाई है। सीबीआई के मामले में देशभर में हुए आज कांग्रेस के विरोध दौरान चंडीगढ़ में पंजाब प्रधान सुनील जाखड़ ने पत्रकारों के साथ बातचीत की।
इस दौरान सुनील जाखड़ से केबिनेट मंत्री चन्नी के बारे में भी सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि महिला का सम्मान बेहद जरुरी है और कांग्रेस हमेशा महिला का सम्मान करती आई है। ऐसे केस में आरोपी कोई भी हो, उस पर सख्त एक्शन होना ही चाहिए। उनका इशाना चन्नी की तरफ ही था। वहीं पंजाब कांग्रेस की प्रभारी आशा कुमारी ने मीडिया से कहा कि किसी को मैसेज भेजना मी टू के दायरे में नही आता। उन्होंने कहा कि मी-टू का मतलब सैक्सुअल हरासमैंट है जबकि मैसेज भेजने को इसके साथ नड़ीं जोड़ा जा सकता।
हालांकि कांग्रेस सूत्रों का कहना है कि इस मामले में चन्नी की कुर्सी जा सकती है, लेकिन कैप्टन अमरिंदर सिंह इस मामले को खत्म करवाना चाहते हैं। अब ये कैप्टन के इजरायल से लौटने के बाद ही साफ होगा कि चन्नी मंत्री पद पर बने रहेंगे या नहीं।
Please follow and like us:
error

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Punjabi News App, iOS Punjabi News App Read all latest India News headlines in Punjabi. Also don’t miss today’s Punjabi News.