जालंधर में रखा गया डिग्री कॉलेज का नींव पत्थर, कैप्टन ने थपथपाई चौधरी संतोख की पीठ

जालंधर, (PNL) : पंजाब के कैप्टन अमरिंदर सिंह ने वीरवार को बूटा मंडी में डिग्री कॉलेज फॉर गर्ल्स का नींव पत्थर रखा। उनके साथ पंजाब कांग्रेस कमेटी के प्रधान सुनील जाखड़ भी मौजूद थे। इस दौरान कैप्टन अमरिंदर सिंह ने जालंधर से सांसद संतोख सिंह चौधरी की पीठ भी थपथपाई और डटकर लोकसभा चुनाव की तैयारी करने के लिए भी कहा।
इसके अलावा सुनील जाखड़ के साथ भी चौधरी की काफी समय तक चुनावों को लेकर चर्चा हुई। नींव पत्थर के बाद कैप्टन डीएवी में एक कार्यक्रम में शामिल होने के लिए चले गए। इस मौके पर जालंधर वेस्ट से विधायक सुशील रिंकू, राजिंदर बेरी, परगट सिंह और विक्रम सिंह चौधरी मौजूद थे।
कैप्टन ने किया नया रोजग़ार सृजन प्रोग्राम शुरू करने का ऐलान
पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने आज उनकी सरकार द्वारा शहरी नौजवानों के लिए ‘मेरा काम, मेरा मान’ शीर्षक अधीन नया रोजग़ार उत्पत्ति प्रोग्राम शुरू करने का ऐलान किया जिससे काम के मान-सम्मान को यकीनी बनाया जा सके। आज यहाँ डी.ए.वी. यूनिवर्सिटी के कैंपस में चौथे रोजग़ार मेलों की समाप्ति के अवसर पर मुख्यमंत्री ने यह ऐलान किया।
राज्य सरकार के प्रमुख प्रोग्राम ‘घर-घर रोजग़ार और कारोबार’ मिशन के अंतर्गत राज्य के सभी 22 जिलों में 10 दिन चले रोजग़ार मेलों के दौरान नौकरियाँ हासिल करने वाले नौजवानों में से 256 को नियुक्ति पत्र देते हुये बधाई दी। रोजग़ार मेलों के इस पड़ाव के दौरान सरकारी और प्राईवेट सैक्टरों में कुल 40517 नौजवानों को रोजग़ार हासिल हुआ।
राज्य स्तरीय रोजग़ार मेलों का विवरण देते हुये मुख्यमंत्री ने बताया कि इस मिशन के अंतर्गत सरकार द्वारा प्रतिदिन 808 नौजवानों को रोजग़ार मुहैया करवाने में सहयोग दिया गया है और जल्द ही यह संख्या बढक़र 1000 व्यक्ति प्रतिदिन हो जायेगी। इस मिशन का मकसद निर्धारित समय में हर परिवार के एक मैंबर को नौकरी मुहैया करवाना है और यह स्कीम निश्चित तौर पर घर-घर तक पहुँचेगी।
मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्ष 2017 के अगस्त -सितम्बर में पहले रोजग़ार मेले के दौरान सिफऱ् पाँच प्रतिशत रोजग़ार मुहैया हुआ था और कुल चाहवानों में से 19415 को नौकरियाँ मिली। वर्ष 2018 के दौरान फरवरी-मार्च में 11821 नौजवानों को रोजग़ार हासिल होने से यह दर 16 प्रतिशत रही।
मुख्यमंत्री ने बताया कि तीसरे रोजग़ार मेले के दौरान यह दर बढक़र 21 प्रतिशत तक पहुँच गई और 18672 नौजवानों को रोजग़ार हासिल हुआ। आज के इस चौथे रोजग़ार मेले से रोजग़ार की दर 55 प्रतिशत तक पहुँच गई है। उन्होंने बताया कि 54 स्थानों पर लगे इन 10 दिवसीय रोजग़ार मेलों के दौरान कुल 1.13 लाख नौकरियों की पेशकश की और 41878 को रोजग़ार मिला जबकि 4370 चाहवानों को स्व -रोजग़ार के लिए सहयोग दिया गया।
मुख्यमंत्री ने बताया कि घर-घर रोजग़ार के अंतर्गत कौशल विकास में और रोजग़ार के लिए गरीबों को ज्यादा प्राथमिकता दी जा रही है और इसी के अंतर्गत हरेक गाँव के कम-से-कम 10 गऱीब बेरोजग़ार नौजवानों को रोजग़ार देने के लिए एक अलग प्रयास शुरू किया गया है जिससे इस स्कीम का लाभ हर एक तक पहुँचना यकीनी बनाया जा सके।
Please follow and like us: