PUBG खेलने के लिए परिवार ने नहीं लेकर दिया स्मार्टफोन, 18 साल के युवक ने सुसाइड की

मुंबई, (PNL) : PUBG से जुड़ी एक और नकारात्मक घटना सामने आई है. पिछले कुछ समय से ये ऑनलाइन गेम चर्चा में है. इस बार मुंबई के कुर्ला के नेहरू नगर इलाके के एक 18 वर्षीय लड़के ने आत्महत्या कर ली. वजह ये थी कि लड़के के परिवार वालों ने उसे PUBG खेलने के लिए महंगा स्मार्टफोन देने से मना कर दिया था.
लड़के ने PUBG खेलने के लिए परिवार वालों से करीब 37,000 रुपये के स्मार्टफोन की डिमांड रखी थी, जबकि घरवाले केवल 20,000 रुपये तक का स्मार्टफोन लड़के को दिलवाने के लिए तैयार थे. ठीक इसी बात खफा लड़के ने घर में ही अपनी जान दे दी. फिलहाल पुलिस ने आकस्मिक मौत का मामला दर्ज किया है और आगे की जांच जारी है.
साउथ कोरियन वीडियो गेम डेवलपर Bluehole का PUBG ऑनलाइन वीडियो गेम पूरी दुनिया में मशहूर है. दुनियाभर में इसके करीब 20 करोड़ से भी ज्यादा प्लेयर्स हैं. इसे कई दफा ई-स्पोर्ट इवेंट की तरह भी खेला जाता है. हाल ही में गूगल प्ले स्टोर पर इसे 2018 का बेस्ट गेम भी घोषित किया गया था. इसी तरह की रेटिंग इस वीडियो गेम के डेस्कटॉप वर्जन को भी मिली थी. PUBG की पॉपुलैरिटी का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि लोग पबजी थीम बेस्ट रेस्टोरेंट खोल रहे हैं, यहां तक की कई शादियां भी पबजी थीम पर हो रही हैं.
जितना ये गेम पॉपुलर है उतनी ही इससे जुड़ी हुई नकारात्मक खबरें हाल फिलहाल में सामने आ रही हैं. हाल ही में ऐसी कई खबरें आईं है जहां इस गेम को लगातार कई घंटों तक खेलने की वजह से अपना मानसिक संतुलन बिगाड़ बैठे हैं. एक हालिया रिपोर्ट के मुताबिक, जम्मू के एक फिटनेस ट्रेनर का लगातार 10 दिनों तक PUBG खेलने से मानसिक संतुलन बगड़ गया था. डॉक्टरों का कहना है कि फिटनेस ट्रेनर अभी भी गेम के प्रभाव में है और उसे उबरने में कुछ दिन और लगेगा.
इसके अलावा गुजरात सरकार ने भी अपने स्कूलों में PUBG खेलने पर बैन लगा दिया है और वेल्लोर इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (VIT) ने कैंपस के अंदर PUBG ना खेलने की घोषणा की है.
Please follow and like us: