जालंधर : बत्तरा बर्दर्स के खिलाफ भड़का वाल्मीकि समाज, धरने दौरान जातिसूचक टिप्पणी करने का आरोप

जालंधर, (PNL) : पूर्व मंत्री अवतार हैनरी और विधायक जूनियर बावा हैनरी के खिलाफ धरना देने वाले बत्तरा बर्दर्स बुरे फंसते नजर आ रहे हैं। वाल्मीकि समाज का आरोप है कि धरने दौरान बत्तरा परिवार ने जातिसूचक शब्द बोलकर वाल्मीकि समाज की भावनाओं को ठेस पहुंचाई है। आज वाल्मीकि नेता सुभाष सोंधी, राजेश भट्टी, अजय खोसला ने साथियों सहित डीसीपी परमबीर सिंह परमार को एक लिखित शिकायत दी है। उन्होंने बत्तरा परिवार पर एससी-एसटी एक्ट के तहत केस दर्ज करने की मांग की है।
वाल्मीकि समाज का कहना है कि धरने दौरान जब बत्तरा परिवार हैनरी और उनके बेटे की फोटो को जूते मार रहा था, तभी उनके परिवार ने वाल्मीकि समाज के खिलाफ जातिसूचक शब्दावली का प्रयोग किया है। जातिसूचक शब्द बोलते की बाकायदा वीडियो भी बनी है, जिसे डीसीपी को सौंप दी गई है। बता दें कि काला बत्तरा और हीरा बत्तरा किसी समय हैनरी के बेहद करीबी होते थे। हाल ही में बत्तरा बर्दर्स की साईं किचन पर निगम ने एक्शन लिया तो उन्होंने धरना लगाकर काफी गालियां निकाली थी।
Please follow and like us: