ठंडी पड़ी मोदी लहर, 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले सत्ता के सेमीफाइनल में बीजेपी को बड़ा झटका, पढ़ें

नई दिल्ली, (PNL) : पांच राज्यों के चुनाव परिणाम से जुड़े हुए अभी तक के प्राप्त रुझानों में बीजेपी को बड़ा झटका लगा है. इन पांच राज्यों में से बीजेपी ने अपने हिस्से के तीन राज्य तो खो ही दिए, साथ ही उसे अन्य दो राज्यों में भी कोई सफलता नहीं मिली है. लोकसभा चुनाव से ऐन पहले हुए ये विधानसभा चुनाव एक तरह से सत्ता के सेमीफाइनल की तरह थे और बीजेपी को इस सेमीफाइनल में करारी शिकस्त का सामना करना पड़ा है. बीजेपी को सबड़े बड़ा झटका उसके हिस्से के तीन राज्यों मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में लगा है. 2014 में इन राज्यों की 65 लोकसभा सीटों में से बीजेपी ने 62 पर जीत दर्ज की थी.
खास बात ये है कि ये इन पांच में से तीन राज्यों मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में लोकसभा की कुल 65 सीटें हैं. 2014 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी ने मध्य प्रदेश की 29 में 27 सीटों पर जीत दर्ज की थी. इसी तरह राजस्थान की 25 की 25 सीटों पर जीत दर्ज की थी. छत्तीसगढ़ की 11 सीटों में 10 पर बीजेपी ने जीत का परचम लहराया था. आने वाले 2019 लोकसभा चुनाव के नजरियें से देखें तो पांच राज्यों के चुनाव नतीजे केंद्र की सत्ताधारी बीजेपी के लिए एक बड़ा झटका है, क्योंकि उसने इन राज्यों में सिर्फ खोया है पाया कुछ भी नहीं.
पांच में से तीन राज्यों में बीजेपी की सरकार है, जिसमें दो राज्यों छत्तीसगढ़ और राजस्थान में सीधे तौर पर पार्टी हार रही है और विपक्षी कांग्रेस बहुमत के साथ सत्ता में वापसी कर रही है, जबकि मध्य प्रदेश में कांटे का मुकाबला है. अगर मौजूदा रुझान नतीजों में बदलते हैं तो कांग्रेस और बीजेपी दोनों सरकार बनाने के लिए अपना मजबूत दावा पेश कर सकती है. तेलंगाना और मिजोरम में पार्टी एक-एक सीट पर सिमटती दिख रही है. यानि तीन राज्यों में सरकार और सीटें खोने के बावजूद अन्य दो राज्यों में कुछ हासिल नहीं कर पा रही है.
राजस्थान में बहुमत का जादुई आंकड़ा 101 सीट है. यहां कांग्रेस को 104 सीटें मिलने का अनुमान है, जबकि अभी तक से रुझानों में बीजेपी 70 सीटें जीत सकती है. अन्य के खाते में 25 सीटें जाती दिख रही हैं. लेकिन साल 2013 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने 163 सीटों पर शानदार जीत के साथ सत्ता में वापसी की थी. कांग्रेस महज़ 21 सीटों पर सिमट गई थी. लेकिन इस बार बीजेपी का हाल बुरा होता दिखाई दे रहा है और वह तीन अंकों में सीटें नहीं ला पा रही है.
वहीं मध्य प्रदेश में कांग्रेस के 114 सीटें जीतने का अनुमान है, जबकि बीजेपी सिर्फ 105 सीटों पर सिमटती दिख रही है. अन्य के खाते में 11 सीटें जा सकती है. साल 2013 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी को 165 सीटें मिली थीं और कांग्रेस की हिस्से में 58 सीटें आई थी. छत्तीसगढ़ में भी बीजेपी का हाल कुछ इस तरह का ही हो गया है. 90 सीटों वाली छत्तीसगढ़ विधानसभा में बीजेपी को सिर्फ 15 सीटें मिल रही हैं जबकि 2013 में उसके खाते में 49 सीट आई थी. वहीं कांग्रेस ने 2013 की 39 सीटों में इजाफा करके 64 सीटें हासिल करते नजर आ रही है. यहां पर अन्य के खाते में 10 सीटें जाती दिख रही है.
Please follow and like us: