जम्मू-कश्मीर में सैनिक के अगवा होने की खबर पर रक्षा मंत्रालय का बड़ा बयान, पढ़ें क्या कहा

बडगाम, (PNL) : जम्मू-कश्मीर के बडगाम से कथित रूप से अगवा हुआ सेना का जवान सकुशल वापस लौट आया है. रिपोर्ट के मुताबिक JAKLI यूनिट के इस जवान को बडगाम के काजपुरा चडूरा से उसके घर से आतंकियों ने किडनैप कर लिया था. इस जवान की पहचान मोहम्मद यासीन के रूप में हुई है. रिपोर्ट के मुताबिक यह जवान अब अपनी यूनिट लौट आया है. मोहम्मद यासिन जम्मू- कश्मीर लाइट इन्फ्रैंट्री यूनिट में तैनात है.
वहीं रक्षा मंत्रालय ने कहा है कि इस जवान के किडनैप होने की खबर ही गलत है. रक्षा मंत्रालय के आधिकारिक ट्विटर हैंडल ने एक ट्वीट कर बताया, “सेना में कार्यरत एक आर्मी जवान के छुट्टी के दौरान बड़गाम के काजीपुरा से अगवा होने की मीडिया रिपोर्ट गलत है, ये शख्स सुरक्षित है.”
जम्मू-कश्मीर में आतंकी छुट्टी पर आए सेना के जवानों को अक्सर निशाना बनाते आए हैं. दरअसल आतंकी सेना द्वारा आतंकियों के खात्मे के लिए चलाए जा रहे ऑपरेशन ऑलआउट से खौफजदा हैं. सेना चुन-चनकर घाटी से आतंकियों का खात्मा कर रही है. इससे बौखलाएं आतंकी सेना के जवानों को एकांत में या छुट्टी के दौरान निशाना बना रहे हैं.
इससे पहले पिछले साल आतंकियों ने सेना के जवान औरंगजेब को अगवा कर लिया था. दहशतगर्दों ने उन्हें तब अकेले में पकड़ा था जब वह छुट्टी के दौरान घर आ रहे थे. बाद में उनकी हत्या कर दी गई थी. इससे पहले साल 2017 में भी आतंकियों ने अपने घृणित मंसूबों को अंजाम दिया था. आतंकियों ने लेफ्टिनेंट उमर फयाज को किडनैप कर उनकी हत्या कर दी. जम्मू-कश्मीर के रहने वाले लेफ्टिनेंट उमर फयाज छुट्टियों में अपने घर आ रहे थे.
Please follow and like us: