अंतत दिल्ली में आप और कांग्रेस के बीच गठबंधन की उम्मीदें खत्म, केजरीवाल बोले-राहुल ने मना किया

नई दिल्ली, (PNL) : लोकसभा चुनाव से पहले राजधानी दिल्ली में आम आदमी पार्टी और कांग्रेस के बीच गठबंधन की उम्मीदें अब खत्म होती जा रही हैं. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को बयान दिया है कि कांग्रेस ने उनकी पार्टी से गठबंधन करने से मना कर दिया है. बता दें कि कांग्रेस पहले ही इनकार कर चुकी थी, लेकिन आज इस पर उनका आधिकारिक रुख सामने आ सकता है. हालांकि अब उससे पहले ही केजरीवाल का ये बयान सामने आया है.
दिल्ली में एयरपोर्ट पर रिपोर्टरों से बात करते हुए कहा कि उन्होंने हाल ही में राहुल गांधी से मुलाकात की थी, जिसमें कांग्रेस नेता ने आम आदमी पार्टी से गठबंधन करने से इनकार किया था. अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली कांग्रेस की प्रदेश अध्यक्ष शीला दीक्षित के बारे में भी बयान दिया.
केजरीवाल बोले कि हमने गठबंधन को लेकर राहुल गांधी से बात की है, शीला दीक्षित महत्वपूर्ण नेता नहीं हैं. गौरतलब है कि आम आदमी पार्टी की ओर से लगातार दिल्ली में कांग्रेस के साथ गठबंधन की कोशिशें की जा रही हैं, लेकिन कांग्रेस नकारती रही है.
पहले शीला दीक्षित और राहुल गांधी ने साफतौर पर गठबंधन से इनकार किया था, तब अरविंद केजरीवाल का बयान था कि कांग्रेस ने लगभग गठबंधन से मना कर दिया है. गौरतलब है कि अभी तक आए कई सर्वों में ऐसा देखने को मिला है कि दिल्ली की सात सीटों पर अगर AAP-कांग्रेस का गठबंधन होता है तो भाजपा को काफी नुकसान हो सकता है. वहीं अगर गठबंधन नहीं होता है तो बीजेपी को ही सातों सीटों पर फायदा हो सकता है.
दरअसल, दिल्ली में आम आदमी पार्टी के साथ गठबंधन को लेकर कांग्रेस में भी दो गुट हैं. शीला दीक्षित लगातार आम आदमी पार्टी से गठबंधन को मना करती रही हैं, तो वहीं प्रभारी पीसी चाको गठबंधन के पक्ष की बात करते रहे हैं.
Please follow and like us: