सचिन, लक्ष्मण और गांगुली ने बताई भारत की हार की मुख्य वजह, पढ़ें क्या बोले

खेल डेस्क, (PNL) : वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में भारतीय टीम न्यूजीलैंड से 18 रन से हारकर बाहर हो गई। मैच के बाद पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली और सचिन तेंदुलकर समेत कई दिग्गजों ने अपनी बात रखी। गांगुली ने कहा कि जब भारत ने 5 रन पर 3 विकेट खो दिए थे, तब धोनी को बल्लेबाजी करने के लिए भेजना चाहिए था। उन्हें 7 नंबर पर बल्लेबाजी करने भेजना बड़ी गलती रही। वहीं, सचिन ने कहा कि टीम को विराट कोहली और रोहित शर्मा पर निर्भर नहीं रहना चाहिए। हर बार ये दोनों जीत नहीं दिलाएंगे।
गांगुली ने कहा, ‘‘जडेजा के अच्छा खेलने की एक वजह ये भी थी कि दूसरे छोर पर धोनी थे। अगर 3 विकेट गिरने के बाद पंत के साथ दूसरे छोर पर धोनी होते तो यकीनन ये साझेदारी मैच को आगे ले जाती। धोनी दूसरे छोर पर पंत को समझाते रहते। पंत और पंड्या ओल्ड ट्रैफर्ड में हवा की दिशा के विपरीत शॉट खेलकर आउट हुए। वे धोनी ही थे, जो दूसरे छोर पर इन युवा खिलाड़ियों को ऐसा बारीकियां समझा सकते थे। इस मैच से हमें जडेजा की अहमियत को भी समझना होगा। आप टीम में कितने भी चाइनामैन और लेग स्पिनर ले आएं, लेकिन रवींद्र जडेजा वनडे टीम का अहम हिस्सा हैं।’’
दूसरे खिलाड़ियों को भी जिम्मेदारी लेनी होगी : तेंदुलकर
सचिन ने कहा, ‘‘240 रन चेज नहीं कर पाना निराश करने वाला है। हर बार रोहित या कोहली टीम को जीत नहीं दिला सकते। दूसरे खिलाड़ियों को भी जिम्मेदारी उठानी होगी। पहली बार हमारे टॉप-3 खिलाड़ी अच्छा प्रदर्शन नहीं कर सके। न्यूजीलैंड के खिलाफ ऋषभ पंत, दिनेश कार्तिक और हार्दिक पंड्या अच्छा प्रदर्शन करने में नाकाम रहे। यह भी अच्छा नहीं कि धोनी हर बार हमें जीत दिलाएं। कई बार वे मैच जिताने वाली पारी खेल चुके हैं।’’
लक्ष्मण ने कहा- धोनी को पंड्या के बाद भेजना बड़ी गलती
वीवीएस लक्ष्मण ने कहा, ‘‘धोनी को पंड्या के बाद मैदान पर भेजा गया। यही सबसे बड़ी गलती रही। दिनेश कार्तिक को भी धोनी से पहले भेजा गया। धोनी को 2011 फाइनल की तरह मंच तैयार करना था। तब धोनी खुद को प्रमोट करते हुए युवराज सिंह से पहले बल्लेबाजी के लिए आए थे और टीम को वर्ल्ड कप जिताया था।’’
Please follow and like us: