गुरु गोबिंद सिंह जी पर टिप्पणी करके फंसे भगवंत मान, अकाली दल ने खोला मोर्चा

नई दिल्ली, (PNL) : आप सांसद भगवंत मान फिर से विवादों में हैं। मान ने एक ट्वीट करके कहा कि 300 साल में सिर्फ दो नेता पैदा हुए हैं…गुरु गोबिंद सिंह और भगत सिंह जी…जिन्होंने चुनाव नहीं इंसाफ की लड़ाईयां लड़ी थी..! भगवंत मान के इस ट्वीट पर सिख समुदाय में काफी रोष पाया जा रहा है। शिरोमणि अकाली दल ने श्री गुरु गोबिंद सिंह की तुलना शहीद से करने पर मान से तुरंत माफी मांगने को कहा है।
मंगलवार को भगवंत मान संसद में अपना पहला भाषण दे रहे थे। कुछ सांसदों द्वारा प्रधानमंत्री मोदी को फकीर की संज्ञा दिए जाने पर मान ने कहा, “10-10 लाख रुपए के सूट पहनने वाला रहबर नहीं होता और न ही बैंकों को लूटने वाले लोगों के साथ दोस्ताना व्यवहार रखने से फकीरी होती है। न ही दो चुनाव जीत जाने परी कोई रहबर बन जाता है। फकीर वह होता है, जो माछीवाड़े के जंगलों में कांटों की सेज में अपने परिवार का बलिदान करता है। उन्होंने कहा कि इस तरह से चुनाव जीतने वाले फकीरों से बचो, क्योंकि ये आपके लिए भी खतरनाक हो जाएंगे।’
मान ने सिखों की भावनाओं को ठेस पहुंचाई
शिअद नेता व पूर्व मंत्री महेश इंदर सिंह ग्रेवाल ने कहा, “कितने दुख की बात है, भगवंत मान ने कहा कि सिखों के 300 साल के इतिहास में सिर्फ दो ही नेता हुए हैं- श्री गुरु गोबिंद सिंह जी और सरदार भगत सिंह। इस बयान ने पूरी दुनिया में रह रहे सिखों की भावनाओं को ठेस पहुंचाई है। उन्हें इससे गहरा आघात लगा है कि मान ने बड़ी लापरवाही से गुरु साहिब की तुलना एक मनुष्य से कर दी।
Please follow and like us: