प्राइवेट स्कूलों की मनमानियों के खिलाफ हुई कैप्टन सरकार, लोकहित में लिए ये बड़े फैसले, पढ़ें

चंडीगढ़, (PNL) : पंजाब में प्राइवेट स्कूल संचालकों की तरफ से की जा रही मनमानियों के खिलाफ कैप्टन सरकार उतर आई है। शिक्षा मंत्री विजय इंदर सिंगला ने लोकहित में बड़े फैसले लिए हैं। आदेशों के मुताबिक कोई भी निजी स्कूल कम से कम तीन वर्ष तक वर्दी के रंग और डिजाइन में बदलाव नहीं करेगा। साथ ही स्कूल अब वर्दी का रंग, डिज़ाइन, कपड़ा आदि की समस्त जानकारी स्कूल की वैबसाईट पर अपलोड करेंगे ताकि अभिभावक किसी भी जगह से इसे खरीद और सिलवा सकें।
इसके अलावा यह भी अनिवार्य किया गया है कि स्कूलों में बोर्ड के सलेबस के अनुसार ही किताबों का इस्तेमाल करें। साथ ही सभी स्कूल किताबों को स्कूल के अंदर और उसके आसपास न बिकने दें। वहीं सभी किताबों की सूची भी स्कूल की वैबसाईट पर अपलोड की जाए ताकि अभिभावक इसे अपनी सुविधा अनुसार किसी भी जगह से खरीद सकें।
उन्होंने कहा कि अक्सर स्कूल अभिभावकों को सलेबस में परिवर्तन की बात कह उन्हें प्राईवेट प्रकाशकों की नई किताबें खरीदने के लिए मजबूर करते हैं। ऐसे में अभिभावक पुरानी किताबें भी नहीं। जबकि हकीकत में सलेबस में कोई परिवर्तन नहीं होता है और यह सब स्कूलों द्वारा मोटी कमाई करने के लिए किया जाता
Please follow and like us: