73वें स्वतंत्रता दिवस के जश्न में डूबा पूरा देश, मोदी ने लालकिले में फहराया तिरंगा, देशवासियों को दी बधाई


-मोदी का ऐलान-प्लास्टिक मुक्त होगा भारत, सेना के लिए भी की बड़ी घोषणा
नई दिल्ली, (PNL) : देश आज 73वें स्वतंत्रता दिवस के जश्न में डूबा है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार सुबह लालकिले पर तिरंगा फहराया और देश को संबोधित किया. लालकिले से अपने छठे भाषण में पीएम मोदी का फोकस जल संकट, जनसंख्या विस्फोट, न्यू इंडिया के मिशन पर रहा. लेकिन इस बीच उन्होंने बड़ा ऐलान किया और तीनों सेना के बीच तालमेल बैठाने लिए ‘चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ’ के पद का ऐलान किया. सेना के इतिहास में ये पद पहली बार बना है.
पीएम ने इस दौरान लोगों से अपील करते हुए कहा कि वह पॉलीथीन का इस्तेमाल ना करें और दुकानदारों से भी ऐसा ही करने को कहा. उन्होंने कहा कि आप थैले का इस्तेमाल करना चाहिए. 2 अक्टूबर से प्लास्टिक रोकने के काम को आगे बढ़ाना होगा. साथ ही प्रधानमंत्री ने अपने देशी प्रोडक्ट को बढ़ावा देने की बात कही, साथ ही उन्होंने एक नारा दिया ‘लकी कल के लिए लोकल’. उन्होंने डिजिटल पेमेंट का हां और नकद को ना करने की अपील की.
प्रधानमंत्री ने इस दौरान लोगों से अपील करते हुए कहा कि आप दुनिया घूमने जाते हैं लेकिन अब तय करें कि 2022 से पहले अपने देश की 15 टूरिस्ट जगह पर जाएंगे. आप जब अपने देश में घूमेंगे तो दुनिया को खूबसूरती बता पाएंगे. साथ ही साथ उन्होंने किसानों से भी केमिकल फर्टिलाइज़र को कम करने की अपील की.
तीनों सेनाओं का सेनापति होगा ‘चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ’
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लालकिले से बड़ा ऐलान किया है. तीनों सेनाओं में तालमेल को बढ़ाने के लिए अब उनका एक सेनापति बनाया जाएगा. जिसे ‘चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ’ (CDS) कहा जाएगा. सेना के इतिहास में ये पद पहली बार बनाया गया है.  उन्होंने कहा कि तीनों सेनाओं को एक साथ चलना होगा.
पीएम मोदी ने कहा कि आज दुनिया के किसी ना किसी हिस्से में कुछ हो रहा है, भारत ऐसे में मूकदर्शक नहीं बना रहेगा. उन्होंने ऐलान किया कि आतंकवाद के खिलाफ भारत अपनी लड़ाई जारी रखेगा, आतंकवाद को एक्सपोर्ट करने वालों को बेनकाब करने का वक्त आ गया है. कुछ लोगों ने भारत के साथ-साथ श्रीलंका, बांग्लादेश और अफगानिस्तान में भी आतंकवाद फैला रखा है. पीएम बोले ने अफगानिस्तान को उनके स्वतंत्रता दिवस की बधाई दी. उन्होंने इस दौरान सेना के जवानों का शुक्रिया किया और उनके योगदान की तारीफ की.
मोदी ने कहा कि जिस तरह लोगों ने स्वच्छता के लिए अभियान चलाया, अब समय आ गया है कि पानी को बचाने के लिए भी कुछ ऐसा ही किया जाए. पानी को बचाने के लिए हमें 4 गुना रफ्तार से काम करना होगा. पीएम ने इस दौरान बढ़ती जनसंख्या को लेकर चिंता जताई, उन्होंने कहा कि हमें इस विषय को लेकर आने वाली पीढ़ि के लिए सोचना होगा. सीमित परिवार से ना सिर्फ खुद का बल्कि देश का भी भला होने वाला है.
पीएम मोदी ने कहा कि जो लोग इस विषय पर आगे कदम बढ़ा चुके हैं और सीमित परिवार के फायदे को लोगों को समझा रहे हैं उन्हें आज सम्मानित करने की जरूरत है. छोटा परिवार रखने वाले देशभक्त की तरह हैं. घर में किसी भी बच्चे के आने से पहले सोचें कि क्या हम उसके लिए तैयार हैं, उसकी जरूरतों को पूरा करने के लिए हम तैयार हैं.
पीएम मोदी ने कहा कि देश में आज लोगों का मिजाज बदल गया है, 2014 से पहले देश में निराशा का माहौल था. लेकिन हमने पांच साल विकास के लिए काम किया, हमने देश को हित में रखकर काम किया. 2019 में इसका असर दिखा और चुनाव में लोगों का उत्साह देखने को मिला. 2014 से 2019 का दौर देश के लोगों की आकांक्षाओं को पूरा करने वाला रहा. हमारे देश और दिमाग में सिर्फ और सिर्फ देश रहा. पीएम ने कहा कि 2019 में ना कोई नेता, ना मोदी चुनाव लड़ रहे थे बल्कि सभी देशवासी अपने सपनों के लिए चुनाव लड़ रहे थे.
Please follow and like us:
error

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Punjabi News App, iOS Punjabi News App Read all latest India News headlines in Punjabi. Also don’t miss today’s Punjabi News.