धारा-377 खत्म होने के बाद इस शख्स ने मनाई ऐसी खुशी, माता-पिता बोले-अब हमारा बेटा अपराधी नहीं

मुंबई, (PNL) : सुप्रीम कोर्ट ने समलैंगिकता (Homosexuality) को अपराध की श्रेणी से हटा दिया है. इसके अनुसार आपसी सहमति से दो वयस्कों के बीच बनाए गए समलैंगिक संबंधों को अब अपराध नहीं माना जाएगा. करीब 55 मिनट में सुनाए इस फ़ैसले में धारा 377 (section 377) को रद्द कर दिया गया है.
फैसला आने के बाद मुंबई के रहने वाले अर्नब नंदी (Arnab Nandy) ने अपनी खुशी फेसबुक के जरिए जाहिर की. साथ ही एक तस्वीर पोस्ट की जिसमें उनके माता-पिता साथ में बैठे हैं और एक पोस्टर पर लिखा है- ‘हमारा बेटा अब क्रिमिनल नहीं है.’ साथ ही पोस्ट में उन्होंने बताया कि उनके परिवार और दोस्तों कितना स्ट्रगल किया और कैसे साथ दिया.
उन्होंने ये पोस्ट कल किया था. जिसमें वो माता-पिता के साथ नजर आ रहे हैं और काफी खुश दिखाई दे रहे हैं. उन्होंने लिखा- ”आज जैसे ही मैं घर में दाखिल हुआ तो मां और पिता ने उनको गले लगा लिया और मुस्कुराते हुए बताया कि तुम्हें शुभकामनाएं बेटा अब लीगल हो चुका है और मेरे आंखों में खुशी के आंसू हैं.” साथ ही उन्होंने लिखा- ”मुझे खुशी है कि मेरे माता-पिता बिलकुल नेगेटिव नहीं हैं. इस पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें और इस मैसेज को सभी तक पहुंचाएं.”
उनका ये पोस्ट कुछ ही घंटे में वायरल हो गया. इस पोस्ट को 14 हजार से ज्यादा लाइक्स और 5 हजार से ज्यादा शेयर्स हो चुके हैं. लोग उनको शुभकामनाएं दे रहे हैं और उनकी स्टोरी पसंद कर रहे हैं. एक यूजर ने लिखा- ‘दिल छू लिया. मेरा प्यार तुम्हें और तुम्हारे माता-पिता के साथ है.’
पोस्ट वायरल होने के बाद उनसे जब पूछा गया कि इतना अटेंशन मिलने के बाद कैसा लग रहा है तो उन्होंने NDTV को बताया- ”लोग जन्मजात होमोफॉबिक नहीं हैं. कमी है तो सिर्फ अच्छे वातावरण की और जाग्रुकता की. मुझे खुशी है कि इस पोस्ट के जरिए लोगों तक बात पहुंच रही है.”
Please follow and like us: