लैंडिंग से पहले खत्म हो गया एयर-इंडिया के जहाज का तेल, पायलट की सूझबूझ से बची 370 यात्रियों की जान

नई दिल्ली, (PNL) : नई दिल्ली से न्यूयॉर्क जा रही एयर इंडिया की फ्लाइट A-101 के पायल उस वक्त मुश्किल में आ गए जब लैंडिंग से ठीक पहले विमान में खराबी आ गई. एयर इंडिया की फ्लाइट A-101, 14 घंटो का सफर करके 370 पैसेंजर के साथ न्यूयॉर्क के जॉन एफ कैनेडी एयरपोर्ट पर लैंडिंग के लिए पहुंचने ही वाली थी कि विमान के पायलट के होश उड़ गए. दरअसल, वहां खराब मौसम के कारण फ्लाइट की लैडिंग में देरी हो रही थी. वहीं, दूसरी तरफ विमान में खराबी और तेल की कमी ने पायलट की चिंताओं को और बढ़ा दिया. बवजूद इसके पायलट की सूझबूझ ने 370 पैसेंजर की जिंदगी बचाने में कामयाब रहा.
दरअसल, 11 सिंतबर को एयर इंडिया की फ्लाइट में अचानक आई खराबी के करण लैंडिंग से कुछ समय पहले मुश्किल में फंस गई. फिर पायलट ने सूझबूझ से काम लेते हुए न्यूयॉर्क ट्रैफिक कंट्रोल को इस बात की जानकारी दी. उन्होंने बताया कि विमान में तेल की कमी और तीनों इंस्ट्रूमेंट लैंडिंग सिस्टम रिसीवर भी खराब हो गए हैं जिसके कारण अब फ्लाइट को ज्यादा देर हवा में नहीं रखा जा सकता है.
विमान की हुई मैन्युअल लैंडिंग
न्यूयॉर्क ट्रैफिक कंट्रोल की ओर से पायलट को जरूरी मदद देने की बात कही गई. लेकिन खराब मौसम के कारण न्यूयॉर्क ट्रैफिक कंट्रोल के लिए भी ज्यादा कुछ कर पाना आसान नहीं था. लेकिन मामले की गंभीरता को देखते हुए ट्रैफिक कंट्रोल ने एयर इंडिया के इस विमान को नेवार्क के अल्टरनेट हवाई अड्डे पर उतारने का सुझाव दिया क्योंकि विमान में किसी भी दूसरे एयरपोर्ट तक पहुंचने के लिए पर्याप्त इंधन नहीं था. तीनों इंस्ट्रूमेंट लैंडिंग सिस्टम के फेल हो जाने के बावजूद पायलट विमान की मैन्युअल लैंडिंग करवाने में कामयाब रहा.
एयर इंडिया ने दिए जांच के आदेश
बता दें कि इस गंभीर मामले को देखते हुए एयर इंडिया ने सुरक्षा विभाग को इस घटना की जांच के आदेश दिए हैं. इस बात की पुष्टि न्यूज एजेंसी एएनआई ने की है. न्यूज एजेंसी के मुताबकि एअर इंडिया के प्रवक्ता प्रवीण भटनागर ने बताया, “विमान सुरक्षा विभाग मामले की जांच कर रहा है. एयर इंडिया के पायलटों ने हालात को संभालने में कामयाब रहे हैं.”
Please follow and like us: